Rajasthan में Corona की भयावह तस्वीर, 24 घंटे में आए 3970 नए पॉजिटिव केस

अकेले जयपुर (Jaipur) में लोगों की लापरवाही के कारण आज राजधानी जयपुर में अब तक के सभी रिकॉर्ड्स तोड़ दिए हैं. 24 घंटे में राजधानी जयपुर में 767 नए कोरोना संक्रमित आए हैं. 

Rajasthan में Corona की भयावह तस्वीर, 24 घंटे में आए 3970 नए पॉजिटिव केस
24 घंटे में राजधानी जयपुर में 767 नए कोरोना संक्रमित आए हैं.

Jaipur: राजस्थान (Rajasthan) में आज फिर कोरोना (Corona) ब्लास्ट हुआ है. आज राज्य में 24 घंटे में 3970 नए कोरोना मरीज़ सामने आए हैं. इतना ही नहीं, पिछले 24 घंटे में ही रिकॉर्ड 12 कोरोना पॉजिटिव (Covid Positive) मरीज़ों की मौत भी हुई है. 

यह भी पढ़ें- Rajasthan में फिर से हुई Covid Vaccine की कमी, जानिए कितनी डोज शेष

इतना ही नहीं, अकेले जयपुर (Jaipur) में लोगों की लापरवाही के कारण आज राजधानी जयपुर में अब तक के सभी रिकॉर्ड्स तोड़ दिए हैं. 24 घंटे में राजधानी जयपुर में 767 नए कोरोना संक्रमित आए हैं. 

यह भी पढ़ें- Rajasthan Assembly by-election: Covid संक्रमित Voters भी करेंगे मतदान, मिलेगी PPE किट

राजस्थान में खत्म हो रही वैक्सीन
बता दें कि राजस्थान कोरोना वैक्सीनेशन (Corona vaccination) में 5 लाख टीकाकरण रोज़ाना का लक्ष्य लेकर चल रहा है. प्रदेश  सरकार की मानें तो अबतक राजस्थान में शत-प्रतिशत टीकाकरण किया गया है. लेकिन अब मौजूदा दौर में प्रदेश में कोरोना वैक्सीन के टीके घट रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग के आकड़ों की मानें तो प्रदेश में अब महज़ 9 लाख कोरोना वैक्सीन ही बचे हैं, जो 2 दिन के लिए भी मुश्किल से ही पर्याप्त हो पाएंगे. लिहाज़ा प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस बाबत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को चिट्ठी लिखकर जल्द से जल्द कोरोना वैक्सीन की सप्लाई दिलाने की मांग की है.

जयपुर में प्रशासन हुआ एक्टिव 
कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण जयपुर में प्रशासन और एक्टिव हो गया है. कोविड गाइडलाइन की पालना नहीं करने पर सख्ती की जा रही है. गृह विभाग की जारी गाइड लाइन को नजरअंदाज कर बड़ी संख्या में छात्रों को एक ही हॉल में बिना सोशल डिस्टेंसिंग के बैठाकर पढ़ाने के मामले में मानसरोवर और गोपालपुरा बाइपास पर दो कोचिंग सेंटर्स को सील किया है.

कई जगहों पर बनाए जा रहे कंटेनमेंट जोन 
इसके अलावा प्रशासन की ओर से नियुक्त किए इंसीडेंट कमाण्डरों ने जयपुर शहर के अलग-अलग इलाकों में 69 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए हैं. ये कंटेनमेंट जोन उन जगहों पर बनाए हैं, जहां 3 या उससे ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं. जिला कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा (Antar Singh Nehra) ने बताया कि राजधानी जयपुर में कोरोना केसों की संख्या तेजी से बढ़ने के साथ ही कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़ रही है. मालवीय नगर, बजाज नगर, मुहाना, जगतपुरा, रामनगरिया सहित कई क्षेत्रों में आज एक दर्जन से ज्यादा मिनी कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं. यहां किसी घर तो, किसी गली में 3 या उससे ज्यादा संक्रमित केस मिले हैं. नेहरा ने कहा कि अब तक कंटेनमेंट जोन के लिए जो 5 केसों की लिमिट कर रखी है. उसे कम करके 3 करने की तैयारी की जा रही है. 

दो कोचिंग सेंटर हुए सील
उधर नगर निगम मानसरोवर जोन उपायुक्त और इंसीडेंट कमाण्डर आभा बेनीवाल ने आज दोपहर जब जयपुर के गोपालपुरा बाइपास पर रिद्धि-सिद्धी तिराहे के पास अभिज्ञान सरोकार कोचिंग सेंटर पहुंची तो एक हॉल में लगभग 50 से ज्यादा स्टूडेंट्स बिना सोशल डिस्टेंसिंग के बैठे दिखाई दिए. यहां कई स्टूडेंट्स ने फेस मास्क भी नहीं लगा रखा था. इसी तरह मानसरोवर स्थित स्प्रिंग बोर्ड अकेडमी कोचिंग सेंटर में भी कुछ ऐसा ही हाल देखने को मिला. इस पर उपायुक्त बेनवाल ने वहां पढ़ रहे सभी स्टूडेंट्स को बाहर निकलवाया और दोनों सेंटरों को आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत 4 दिन के लिए सील कर दिया.

स्क्रिप्ट: सतेंद्र यादव