अजमेर दरगाह में चादर पेश करने के बाद नकवी ने रखी ख्वाजा गरीब नवाज यूनिवर्सिटी की नींव

नींव रखे जाने के वक्त बीजेपी कांग्रेस के स्थानीय नेताओं के साथ साथ दरगाह कमेटी के सदर अमीन पठान सहित सभी 9 सदस्य मौजूद रहे.

अजमेर दरगाह में चादर पेश करने के बाद नकवी ने रखी ख्वाजा गरीब नवाज यूनिवर्सिटी की नींव
फोटो साभार- ANI

अजमेर: हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के नाम से केजीएन यूनिवर्सिटी की नींव बुधवार को केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलात मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रखी. अजमेर के कायड़ विश्राम स्थल के पास इस यूनिवर्सिटी की नींव रखी गई. आपको बता दें, नकवी यहां पीएम मोदी की ओर से 807वें उर्स में चादर पेश करने के लिए पहुंचे थे. जिसके बाद उन्होंने यूनिवर्सिटी की नींव रखी.

नींव रखे जाने के वक्त बीजेपी कांग्रेस के स्थानीय नेताओं के साथ साथ दरगाह कमेटी के सदर अमीन पठान सहित सभी 9 सदस्य मौजूद रहे. खास बात ये रही कि शिक्षा के लिए नींव नकवी ने रखी और दरगाह शरीफ की अंजुमन सैय्यद जादगान के सदर सैय्यद मोइन हूसैन चिश्ती ने तालीम के हवाले से दुआ फरमाई. 

यूनिवर्सिटी की नींव रखने के बाद नकवी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि अजमेर के लोगों और ख्वाजा साहब के चाहने वालों के लिए तालीम का दायरा अब ख्वाजा गरीब नवाज यूनिवर्सिटी की बुनियाद से बढ़ जाएगा. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में अल्पसंख्यकों के लिए तालीम से लेकर हर बुनियादी सुविधा का ख्याल रखा है. 

यही वजह है कि आज दरगाह कमेटी की मेहनत से खुशी का ये सुनहरा पल देखने को मिला है. इसके अलावा ख्वाजा साहब के नाम से मेडिकल डिस्पेंसरी और शिक्षा का इदारा भी नसीब हुआ है. नकवी का कायड़ ख्वाजा गरीब नवाज मेहमान खाना पर कमेटी के लोगो ने स्वागत किया.