अलवर बच्चा चोरी मामला: पुलिस को मिली सफलता, आरोपी महिला को गिरफ्तार

काली मोरी स्थित देव नगर की रहने वाली 36 वर्षीय महिला बीना ने घटना के बारे में पुलिस को बताया था कि वह गणेश मार्केट में फुटपाथ पर कॉस्मेटिक्स का सामान बेचने की दुकान लगाती है.

अलवर बच्चा चोरी मामला: पुलिस को मिली सफलता, आरोपी महिला को गिरफ्तार

अलवर: राजस्थान के अलवर में स्थित गणेश मार्केट में मंगलवार को दो महिलाएं एक दुकानदार के बच्चे को लेकर फरार हो गईं. जिसके बाद इस बच्चे की मां और दुकानदार महिला की बहन द्वारा पुलिस में शिकायत दर्ज की थी. इस मामले में पुलिस ने बुधवार को आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है और पुलिस द्वारा बच्चे को सकुशल उसके परिजनों को सौंप दिया गया है. 

दरअसल, काली मोरी स्थित देव नगर की रहने वाली 36 वर्षीय महिला बीना ने घटना के बारे में पुलिस को बताया था कि वह गणेश मार्केट में फुटपाथ पर कॉस्मेटिक्स का सामान बेचने की दुकान लगाती है. उसकी बेटी प्रीति और बहन चंदा उसकी दुकान पर आई थीं. बहन चंदा ने उससे बाजार में से चप्पल खरीदने के लिए 500 रुपए मांगे थे और उसने बहन को 500 रुपए दे दिए. इस दौरान बहन चंदा ने अपने 8 माह के बेटे विवेक उर्फ बाबू को उसे पकड़ा दिया था.

मीना ने आगे यह भी बताया कि उससे मजाक करते हुए उसकी बहन ने कहा था कि 500 रुपए जब वापस करूंगी तभी बालक को वापस लूंगी. इसके बाद बहन और बेटी प्रीति दोनों बाजार में सामान खरीदने चले गए थे. उस वक्त उसकी दुकान पर दो महिला ग्राहक भी बैठी हुई थीं. इनमें से एक महिला ने कहा था मैं 500 रुपए दे देती हूं. मुझे बालक को दे दो, बीना ने बताया कि वह उस महिला की बात को मजाक में ले रही थी. तभी बच्चे की नींद खुल गई. बीना ने बताया कि महिला ग्राहक ने बालक को खिलाने के बहाने अपनी गोदी में ले लिया. और वह अन्य ग्राहकों को सामान बेचने में व्यस्त हो गई. तभी उसकी नजर चुराकर दोनों महिला बालक को लेकर चली गईं थी. 

हालांकि, बच्चे को ले जाती हुई महिला सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई थी. सीसीटीवी फुटेज में महिला बच्चे को गोद में उठा कर ले जाती हुई नजर आ रही थी. जिसके बाद पुलिस ने गणेश मार्केट, घंटाघर, होप सर्कस सहित अन्य जगहों पर लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले. जिसके बाद अब पुलिस ने आरोपी महिला को डेहरा शाहपुरा से गिरफ्तार कर लिया है.