close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान रोडवेज की खस्ता हालत को सुधारने की कोशिश में जुटी सरकार, उठाएगी ये कदम

खाली पड़ी जमीनों पर पैट्रोल पम्प खुलवाकर जमीनों को सुंदर बनाया जाएगा और आय बढाई जाएगी. पिछली भाजपा सरकार में रोडवेज को साढ़े 3 हजार करोड का घाटा हुआ है.

राजस्थान रोडवेज की खस्ता हालत को सुधारने की कोशिश में जुटी सरकार, उठाएगी ये कदम
फाइल फोटो

जयपुर/ दामोदर प्रसाद: राजस्थान रोडवेज की आय बढ़ाने के लिए विभाग कुछ ना कुछ प्रयास कर रहा है. इस बार परिवहन मंत्री के सहयोग से रोडवेज एमडी ने योजना बनाई है. रोडवेज की बेशकीमती जमीने बस स्टैंडों पर खाली पड़ी हुई है. इन जमीनों से विभाग की आय बढ़ाने के लिए इनके उपयोग के लिए पैट्रोलियम कंपनियों और विज्ञापन एजेंसियों से बात की जा रही है. रोडवेज की खाली पड़ी जमीनों को लीज पर देकर अच्छी आय प्राप्त की जा सके और जमीन विभाग के पास ही रहे. इस प्रकार की योजना बनाई जा रही है.

मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने बताया कि राजस्थान रोडवेज की माली हालत ठीक नहीं रही है. लगातार घाटे में चल रही रोडवेज के कारण कर्मियों को वेतन के भी कभी कभार लाले पड़ जाते हैं. हाल ये है कि कर्मचारियों को 7 वां वेतन भी नहीं मिल रहा है. कांग्रेस सरकार ने कर्मचारियों को भी पूरा वेतन मिले इसके लिए रोडवेज की खाली पड़ी जमीनों को लीज पर देने की योजना बना रहा है.

इन खाली पड़ी जमीनों पर पैट्रोल पम्प खुलवाकर जमीनों को सुंदर बनाया जाएगा और आय बढाई जाएगी. पिछली भाजपा सरकार में रोडवेज को साढ़े 3 हजार करोड का घाटा हुआ है. पूर्व सरकार ने रोडवेज को बंद करने की पूरी कोशिश की है. रोडवेज राजस्थान की लाइफ लाइन कही जाती है. रोडवेज की स्थिति सुधरे, लोगों के आवागमन का साधन उपलब्ध हो, इसके लिए गहलोत सरकार कटिबद्ध है. मुख्यमंत्री गहलोत खुद भी चाहते हैं कि ग्रामीण बस सेवा शुरू हो इसके लिए योजना बनाई जा रही है. मुख्यमंत्री से भी बात चल रही है. जल्द ही ग्रामीण बस सेवा भी राजस्थान में देखने को मिलेगी.

राजस्थान रोडवेज की आय कैसे बढ़ाई जाए सरकार और विभाग के अधिकारियों के लिए भी सिर दर्द बना हुआ है. आय बढ़ाने के लिए इस बार रोडवेज की खाली पड़ी जमीनों को लीज पर देकर पेट्रोल पम्प और विज्ञापन एजेंसियों को देने की योजना बनाई जा रही है. इससे रोडवेज विभाग की आय बढ़ेगी तो रोडवेज घाटे से उभर पाएगी.

राजस्थान रोडवेज के पास कई बस स्टैंडों पर काफी खाली जमीनें है. इन खाली पड़ी जमीनों से रिवेन्यू प्राप्त कैसे किया जाए इसके लिए सभी पैट्रोलियम कंपनियों से सम्पर्क साधा जा रहा है. पेट्रोलियम कंपनियों ने भी पेट्रोल पम्प खोलने के लिए रूची दिखाई है. डीजल, पेट्रौल पम्प और सीएनजी की सुविधा उपलब्ध हो इसके लिए टेंडर निकाले जाएंगे. बस स्टैंड पर आधुनिक तरह के शौचालय और बस स्टैंड सुंदर दिखाई देंगे.

परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास और एमडी शुची शर्मा के प्रयासों से आगामी दिनों में रोडवेज की माली हालत में सुधार दिखाई देगा. खाली जमीनों को लीज पर देकर रोडवेज विभाग भी आय का साधन बनेगा. अब रोडवेज विभाग का ऑपरेशन रेवन्यू सीमित नहीं होगा अब आगामी दिनों में बढेगा.