भाखड़ा और इंदिरा गांधी नहर के रेगुलेशन की मांग, MP और 5 MLAs की प्रशासन से हुई बैठक

इंदिरा गांधी नहर (Indira Gandhi Canal) में 60 दिन की नहरबंदी के बाद जिले में पानी आते ही विवाद खड़ा हो गया है. 

भाखड़ा और इंदिरा गांधी नहर के रेगुलेशन की मांग, MP और 5 MLAs की प्रशासन से हुई बैठक
जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट में हुई बैठक.

Hanumangarh : इंदिरा गांधी नहर (Indira Gandhi Canal) में 60 दिन की नहरबंदी के बाद जिले में पानी आते ही विवाद खड़ा हो गया है. भाखड़ा नहरों (Bhakra Canals) में सिंचाई पानी की मांग को लेकर आक्रोशित सदस्यों और हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर जिले के सांसद निहालचंद, 5 विधायक धर्मेंद्र मोची, गुरदीप शाहपीनी, रामप्रताप कासनिया, संतोष बावरी, बलवीर लूथरा और पूर्व सिंचाई मंत्री डॉ. रामप्रताप की हनुमानगढ़ जिला कलेक्टर नथमल डिडेल और सिंचाई अधिकारियों से बैठक हुई. 

ये भी पढ़ें-Launch होगा आयकर विभाग का नया पोर्टल, 7 जून को नए फीचर्स के साथ होगी Launching

बैठक में विधायकों और भाखड़ा रेगुलेशन कमेटी सदस्यों ने 2 जून से भाखड़ा नहरों में 1200 क्यूसेक पानी की मांग रखी, जिस पर सिंचाई विभाग हनुमानगढ़ के मुख्य अभियंता विनोद मित्तल ने 2 जून से पर्याप्त पानी देने का आश्वासन दिया. बैठक में पंजाब (Punjab) में नहरबंदी में हुए निर्माण कार्यों में राजस्थान कैनाल से ठेकेदार द्वारा मिट्टी ना उठाने और मिट्टी के पानी में बहने पर आक्रोश जताया और इंदिरा गांधी नहर में घटिया निर्माण के भी आरोप लगाए, जिस पर जिला कलेक्टर नथमल डिडेल और मुख्य अभियंता विनोद मित्तल ने जांच की बात कही.

बैठक में किसानों ने कहा कि अगर भाखड़ा नहरों में पर्याप्त पानी नहीं मिला तो किसान आंदोलन करेंगे. बैठक के बाद श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ जिलों के विधायकों, सांसद और दोनों जिलों के भाजपा नेताओं ने जिला कलक्टर से अलग से बैठक की और घटिया निर्माण और मिट्टी बहने के मामले में सख्त कार्रवाई की मांग रखी. गौरतलब है कि इंदिरा गांधी नहर में घटिया निर्माण की शिकायत पर एसीबी ने भी सैम्पल लिए थे और पंजाब में राजस्थान कैनाल में पानी में मिट्टी बहने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिस पर भाजपा नेताओं और किसानों में आक्रोश है क्योंकि 60 दिन की नहरबंदी में 400 करोड़ रुपये के काम हुए हैं, जिससे किसानों में पानी बचने की उम्मीद थी मगर अब विवाद बढ़ रहा है और जिला कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए हैं.

इस दौरान भाजपा शिष्टमंडल में गंगानगर हनुमानगढ़ दोनो जिलों के जनप्रतिनिधियों के साथ हनुमानगढ़ भाजपा जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई, जिलाध्यक्ष गंगानगर आत्माराम तरड़, भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा प्रदेशध्यक्ष कैलाश मेघवाल, भाजपा प्रदेश मंत्री विजेंद्र पुनिया और जिला मीडिया प्रभारी दीपक खाती आदि शामिल हुए.

रिपोर्ट: मनीष शर्मा

ये भी पढ़ें-कृषि क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए ज्यादा बिजली कनेक्शन जारी करेंगे: गहलोत