विकास-पथ की ओर बढ़ रहा सरदारशहर, शहर की सुंदरता में लगेंगे चार चांद
X

विकास-पथ की ओर बढ़ रहा सरदारशहर, शहर की सुंदरता में लगेंगे चार चांद

मेगा हाईवे से जोड़ने वाले 10 मुख्य सड़कों के बनने का रास्ता साफ हो गया है. इससे ना सिर्फ आमजन को राहत मिलेगी बल्कि शहर के विकास को भी पंख लगेंगे और शहर की तस्वीर भी बदल जाएगी.

विकास-पथ की ओर बढ़ रहा सरदारशहर, शहर की सुंदरता में लगेंगे चार चांद

Churu: राजस्थान के चूरु (Rajasthan News) में धोरों की धरती सरदारशहर में विगत वर्षों में तेजी से बदलाव देखा गया है या यूं कहें कि तेजी से यहां विकास हुआ है. यहां की फीणी मिठाई देश-विदेश में प्रसिद्ध है तो दूसरी ओर यहां का प्रसिद्ध घंटाघर पूरे एशिया में तीसरे नंबर पर आता है.

शिक्षा नगरी के रूप में भी इस शहर को जाना जाता है. यहां के कारोबारी ना सिर्फ प्रदेश में बल्कि विदेशों में भी अपनी एक अलग पहचान रखते हैं लेकिन इतना सब कुछ होने के बावजूद यहां की बदहाल सड़कें देखते ही हर किसी के आंसू निकल जाते हैं और अब इन टूटी हुई सड़कों की सूरत बदलने वाली है.

मेगा हाईवे से जोड़ने वाले 10 मुख्य सड़कों के बनने का रास्ता साफ हो गया है. इससे ना सिर्फ आमजन को राहत मिलेगी बल्कि शहर के विकास को भी पंख लगेंगे और शहर की तस्वीर भी बदल जाएगी.

लंबे समय से थी मांग
शहर की क्षतिग्रस्त सड़कें सुधारने की मांग स्थानीय लोग लंबे समय से कर रहे थे लेकिन आश्वासनों के अलावा आम जनता को कुछ भी नहीं मिला. सड़कें क्षतिग्रस्त होकर बिखर चुकी है कहीं किनारे ढह गए हैं तो कहीं राहगीर जान जोखिम में डालकर सफर कर रहे हैं. पीडब्ल्यूडी (PWD) के अधिकारी सड़कों की बदहाली को सुधारना तो दूर इसके तात्कालिक समाधान पर भी विचार नहीं कर रहे हैं. हर सार्वजनिक अवसर पर लोगों के बीच विकास के दावे करने वाले जनप्रतिनिधि भी सड़कों की दुर्दशा पर जवाबदेही से बचते हुए नजर आते थे. इन सड़कों की सुध लेने वाला कोई नहीं है. जर्जर सड़कें लोगों के लिए ना केवल सफर में तकलीफें बढ़ाने लगी है बल्कि जान भी जोखिम में डाल रही है.

पूरी हो चुकी टेंडर प्रक्रिया 
इन सड़कों पर वाहन लेकर निकलने वाले राहगीरों को झटके ही झटके लगते हैं. सड़कों पर दो से तीन फीट तक के गड्ढे हैं. दिनभर में हजारों की तादात में दुपहिया, चौपहिया और बड़े वाहनों में लोग जोखिम मोल लेकर सफर कर रहे हैं. ऐसे में शहर की जनता का आक्रोश भी लगातार बढ़ रहा था. वहीं, अब शहर की जनता की सबसे बड़ी समस्या का समाधान होता हुआ नजर आ रहा है. माना जा रहा है कि टेंडर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और जल्द ही इन सड़कों का निर्माण कार्य भी शुरू हो जाएगा.

यह भी पढ़ें - Bikaner: तीन दिवसीय उत्सव 'देशज' का हुआ शुभारंभ

नई सड़कों के निर्माण से लगेंगे विकास को पंख
मुख्यमंत्री ने अपने बजट में नई सड़के बनाने की घोषणा की थी, जिसके बाद स्थानीय विधायक पंडित भंवरलाल शर्मा (Pandit Bhanwarlal Sharma) ने लगातार प्रयास किए और अब 10 सड़कें बनाने की मंजूरी मिल चुकी है, जिसकी टेंडर प्रक्रिया भी पूरी हो चुकी है. इससे माना जा रहा है कि अब शहर में विकास के पंख लग जाएंगे और तेजी से विकास होगा.

एक ओर हनुमानगढ़-जयपुर में मेगा हाइवे है तो दूसरी और बीकानेर मेगा हाइवे है इन दोनों ही मेगा हाईवे से जुड़ने से शहर के विकास को नई गति मिलेगी और व्यापारियों को भारी राहत मिलेगी. जहां पहले व्यापारियों को संकरे रास्तों से जाना पड़ता था और साथ ही टूटी-फूटी सड़क होने के चलते भी व्यापारियों को माल ढोने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ता था. अब इन कारोबारियों को भारी राहत मिलेगी. विशेष रुप से सरदारशहर में बड़े स्तर पर हैंडीक्राफ्ट का कार्य होता है. सड़के बनने से हैंडीक्राफ्ट से जुड़े हुए कारोबार को काफी राहत मिलेगी. 

इन सड़कों का होगा निर्माण
राज्य सरकार (State government) द्वारा 3 करोड़ 26 लाख 70 हजार रुपयों की सड़कें स्वीकृत हुई हैं. स्थानीय विधायक पंडित भंवरलाल शर्मा द्वारा की गई अभिशंशा के आधार पर मुख्य रूप से इन सड़कों का निर्माण होगा.
1. हनुमानगढ़ रोड़ से करणी छात्रावास होते हुए सोमनाथ मंदिर तक
2. हनुमानगढ़ रोड़ से वार्ड 24 के अंदर तक
3. हनुमानगढ़ रोड़ से राजकीय अंजुमन स्कूल तक
4. बीकानेर रोड़ से जसनाथ मंदिर होते हुए मुख्य गिनाणी तक
5. गिड़गिचिया रोड़ से तिवाड़ी भवन तक
6. बीकानेर रोड़ से सिलामप्रिया कुआं होते हुए मंजू माता मंदिर तक
7. हनुमानगढ़ रोड़ से कच्चा बस स्टैंड को जोड़ने वाली मुख्य सड़क तक
8. बिकमसरा रोड़ से रेलवे फाटक तक
9. बीकानेर रोड़ से बाबा सेवा सदन स्कूल होते हुए लोहारों के गाड़े तक
10. हनुमानगढ़ रोड़ से नई बकरा मंडी तक

कुछ माह बाद यहां देश-विदेश से आएंगे श्रद्धालु
जैन धर्म के सबसे बड़े संत आचार्य महाश्रमण कुछ माह बाद सरदारशहर प्रवास पर आएंगे. आचार्य महाश्रमण का 23 दिवसीय प्रवास होगा ऐसे में माना जा रहा है कि ना सिर्फ प्रदेश से बल्कि देश-विदेश से उनके अनुयाई सरदारशहर आएंगे. ऐसे में अच्छी सड़के होने से सरदारशहर का गौरव और भी बढ़ेगा.

अच्छी सड़कें विकास की निशानी होती है. शहर में नई 10 सड़कें बनने से निश्चित ही विकास का पथ और सुगम होगा ओर तेजी से शहर विकास पथ पर दौड़ेगा. वहीं, आमजन को भी भारी राहत मिलेगी.

Trending news