close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: पुलिस और अपराधियों के बीच हुई मुठभेड़, फायरिंग के दौरान 2 जवान घायल

बगरू थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि इलाके में हार्डकोर बदमाश जितेंद्र उर्फ जीतू अपने एक अन्य साथी के साथ पिछले कुछ दिनों से दहशत फैला रहा है. 

जयपुर: पुलिस और अपराधियों के बीच हुई मुठभेड़, फायरिंग के दौरान 2 जवान घायल
मुठभेड़ में पुलिस के 2 जवान ताराचंद और छोटू लाल घायल हो गए.

जयपुर: राजधानी के बगरू थाना इलाके में बुधवार शाम को एक हार्डकोर बदमाश और जयपुर पुलिस के बीच में मुठभेड़ हुई. इस दौरान दोनों तरफ से कई राउंड फायर किए गए और बदमाशों द्वारा की गई फायरिंग में दो जवान घायल हो गए. पुलिस ने घेराबंदी कर हार्डकोर बदमाश जितेंद्र उर्फ जीतू और उसके एक अन्य साथी को दबोच लिया. वहीं घायल जवानों को ग्रीन कोरिडोर बनाकर ग्रामीण इलाके से तुरंत एसएमएस अस्पताल लाया गया जहां पर ट्रॉमा आईसीयू वार्ड में दोनों जवानों का उपचार जारी है. 

बगरू थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि इलाके में हार्डकोर बदमाश जितेंद्र उर्फ जीतू अपने एक अन्य साथी के साथ पिछले कुछ दिनों से दहशत फैला रहा है. इलाके में अनेक होटलों के बाहर फायरिंग कर होटल संचालकों से फिरौती की मांग कर रहा है. जितेंद्र उर्फ जीतू ने 13 अगस्त को बगरू थाना इलाके के हाईवे पर स्थित होटल लकी के बाहर फायरिंग की और दहशत फैलाने के बाद होटल संचालक को फोन कर एक करोड़ रुपए की फिरौती मांगी. 

मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर आज पुलिस टीम ने आसलपुर फाटक के पास जितेंद्र उर्फ जीतू और उसके साथियों को घेर लिया इस दौरान खुद को घिरा देख जितेंद्र और उसके साथियों ने पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दिया. जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की इस दौरान मुठभेड़ में पुलिस के 2 जवान ताराचंद और छोटू लाल घायल हो गए. पुलिस की टीम ने बदमाशों को चारों तरफ से घेर कर दबोच लिया और बगरू थाने ले आए जहां पर पुलिस के आला अधिकारी बदमाशों से पूछताछ में जुटे हुए हैं. 

जितेंद्र उर्फ जीतू के खिलाफ 2 दर्जन से अधिक अपराधिक प्रकरण दर्ज हैं और हत्या के तीन प्रकरणों में काफी लंबे समय से जितेंद्र वांछित भी चल रहा है. जितेंद्र एमपी, दिल्ली और अजमेर के मर्डर के प्रकरण में वांछित चल रहा है जिसके चलते उस पर इनाम भी घोषित किया जा चुका है. फिलहाल गिरफ्त में आए बदमाशों से पुलिस पूछताछ में जुटी है और साथ ही मुठभेड़ में घायल हुए दोनों जवानों का एसएमएस अस्पताल में इलाज जारी है. फिलहाल दोनों जवानों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है.