Jodhpur : मुख्यमंत्री के गढ़ में ABVP का प्रदर्शन, कहा- पेपर लीक में मंत्री-विधायक की मिलीभगत
topStories1rajasthan1541422

Jodhpur : मुख्यमंत्री के गढ़ में ABVP का प्रदर्शन, कहा- पेपर लीक में मंत्री-विधायक की मिलीभगत

प्रदेश में प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक मामले में आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जोधपुर के कार्यकर्ताओं ने जोधपुर जिला कलेक्टर कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया.

Jodhpur : मुख्यमंत्री के गढ़ में ABVP का प्रदर्शन, कहा- पेपर लीक में मंत्री-विधायक की मिलीभगत

Jodhpur : प्रदेश में प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक मामले में आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जोधपुर के कार्यकर्ताओं ने जोधपुर जिला कलेक्टर कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया. इस दौरान एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर पेपर लीक मामले की सीबीआई से जांच करवाने की मांग की. साथ ही पेपर लीक मामले में बड़े-बड़े कोचिंग संस्थान अधिकारियों और सरकार के मंत्रियों विधायकों के तार जुड़े होने पर उनके नामो का खुलासा कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर बताया कि प्रदेश में अब तक हुई प्रतियोगी परीक्षाओं में लगभग परीक्षाओं के पेपर लीक हुए, लेकिन सरकार ने ऐसे पेपर माफियाओं गिरोह के खिलाफ कोई सख्त कार्रवाई नहीं की . जिसकी वजह से उनके हौसले बुलंद हैं. उन्होंने बताया कि इस पेपर लीक गिरोह के सदस्यों के साथ सरकार के मंत्री विधायक और अधिकारियों की भी मिलीभगत की बातें सामने आ रही है. ऐसे में सरकार को इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से करवानी चाहिए, ताकि ऐसे लोग बेनकाब हो सके.

साथ ही एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने इस गिरोह से बड़े-बड़े कोचिंग संस्थानों के तार जुड़े होने का भी आरोप लगाते हुए मामले में निष्पक्ष जांच कर ऐसे कोचिंग संस्थानों पर कार्रवाई करने की भी मांग की, ताकि गिरोह से जुड़े लोग युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं कर सके. एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी है कि अगर समय रहते सरकार ने उनकी मांग पर उचित समाधान नहीं किया तो आने वाले दिनों में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद पेपर लीक मामले को लेकर पूरे प्रदेश भर में आंदोलन तेज करेगी. जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की होगी.

ये भी पढ़ें..

सचिन पायलट को हनुमान बेनीवाल की नसीहत, कुछ करना है तो दिल्ली जा कर आलाकमान को बताओ

गहलोत को पायलट का जवाब, 32 सलाखों के पीछे जो बिना हड्डी की जीभ है उसे संभाल कर उपयोग करना चाहिए

Trending news