close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: मुख्य निर्वाचन अधिकारी की संभागीय आयुक्तों के साथ सोमवार को हुई बैठक

बैठक के दौरान 25 जनवरी तक मतदाता सूचियों की प्रविष्टियों का सत्यापन करना सुनिश्चित करने को कहा गया.

राजस्थान: मुख्य निर्वाचन अधिकारी की संभागीय आयुक्तों के साथ सोमवार को हुई बैठक
राज्य सचिवालय में हुई निर्वाचन आयोग की बैठक के दौरान मौजूद अधिकारी.

जयपुर: राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने प्रदेश के संभागीय आयुक्तों के साथ बैठक कर आगामी लोकसभा के आम चुनाव की तैयारियों के संदर्भ में मतदाता सूचियों के संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम पर बैठक की.

राज्य सचिवालय स्थित समिति कक्ष में हुई बैठक में उन्होंने सम्भागीय आयुक्तों को सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों और निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों के साथ बैठक कर ईआरओ नेट पर उपलब्ध बहु प्रविष्टियां एवं दोहरी प्रविष्टि क्रमांक वाले मतदाता फोटो पहचान पत्रों को निस्तारित करवाने का निर्देश दिया. 

उन्होंने कहा कि यदि बहु प्रविष्टियां, दोहरी प्रविष्टियां सत्यापन के दौरान सही नहीं पाई जाती है तो विधिवत् रूप से 7 दिवस का नोटिस देकर नाम हटाने की कार्यवाही की जाए. इसके अलावा इसे 3 फरवरी, 2019 तक पूरा करने के निर्देश भी दिया.

उन्होंने कहा कि बूथ लेवल अधिकारी 25 जनवरी तक घर-घर जाकर मतदाता सूचियों की प्रविष्टियों का सत्यापन करेंगे. साथ ही पात्र व्यक्तियों विशेष कर युवाओं से मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए आवेदन पत्र प्राप्त करने, मृत या स्थानान्तरित मतदाताओं का चिन्हीकरण कर सूची तैयार की जाएगी.

इसके अलावा इस अवधि में उच्च शिक्षण संस्थानों में युवाओं, विशेष योग्यजनों के पंजीकरण के लिए विशेष शिविरों का आयोजन किया जा रहा है. जिसे संबंधित अधिकारी पूरा करे.

इस दौरान संभागीय आयुक्तों को जिले के सरकारी विभागों में ‘वोटर अवेयरनेस फोरम‘ की स्थापना करवाने की कार्यवाही करने और मॉनीटरिंग करने के भी निर्देश दिए गए.

बैठक के दौरान अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. रेखा गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. जोगाराम, संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी (आईटी) एमएम तिवारी, उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनोद पारीक सहित निर्वाचन विभाग के अधिकारीगण मौजूद थे.