close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान विधानसभा में विपक्ष ने उठाया आपराध का मुद्दा, सरकार ने दिया करार जवाब

विपक्ष के प्रदेश में अपराध बढ़ने के आरोप पर शान्ति धारीवाल ने कहा कि आप कहते हैं अपराध बढ़ गए, जबकि हम कहते हैं अब मामले दर्ज होने लगे हैं. 

राजस्थान विधानसभा में विपक्ष ने उठाया आपराध का मुद्दा, सरकार ने दिया करार जवाब
शान्ति धारीवाल ने कहा कि अब कांस्टेबलों को अनुसंधान का अधिकार मिलेगा.

जयपुर: प्रदेश में लगातार हो रही आपराधिक घटनाओं को लेकर विपक्ष ने सदन में जमकर हंगामा किया. वहीं विपक्ष के प्रदेश में अपराध बढ़ने के आरोप पर शान्ति धारीवाल ने कहा कि आप कहते हैं अपराध बढ़ गए, जबकि हम कहते हैं अब मामले दर्ज होने लगे हैं. उन्होनें कहा कि पहली बार मुख्यमंत्री ने व्यवस्था की है कि थाने में मामला दर्ज नहीं होने पर सीधे पुलिस अधीक्षक कार्यालय में मामला दर्ज कराया जा सकता है.

एसीबी में तफ्तीश में होने वाली देरी की चर्चा करते हुए शान्तिधारीवाल ने कहा कि मुझे भी तीन साल इंतजार करना पड़ा था. मेरे खिलाफ तो एफआइआर भी नहीं थी. हर बार खबर फैलती थी कि अब गिरफ्तार होने वाले हैं अब गिरफ्तार होने वाले हैं. मुझे एसीबी में बुलाया भी किया.

शान्ति धारीवाल ने कहा कि कांस्टेबलों को अनुसंधान का अधिकार मिलेगा. इसके लिए उन्हें प्रशिक्षण भी मिलेगा. रात की गश्त की नई व्यवस्था की जा रही है. इसी के तहत बीट प्रणाली तय होगी. चार हजार नई बीट बनाई जाएगी.

धारीवाल ने कहा कि राजनीतिक हस्तक्षेप से पुलिस का मनोबल गिरता है. लिहाजा राजनीतिक दखल को रोकना होगा. धारीवाल ने गुलाबचन्द कटारिया के गृह मंत्री के रूप में कार्यकाल के दौरान कोटा के मामले में राजनीतिक दखल का ज़िक्र भी किया.

(इनपुट-विष्णु शर्मा, शशि मोहन)