close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आकांक्षी जिला कार्यक्रम में नीति आयोग ने जैसलमेर को दिया पहला स्थान

नीति आयोग द्धारा चलाये जा रहे आकांक्षी जिला कार्यक्रम के जिला समन्वयक गौरव द्धिवेदी ने बताया कि कार्यक्रम के तहत पूरे भारत से कुल 117 जिले जिसमे राजस्थान के धोलपुर, बांरा, करौली, सिरोही सहित जैसलमेर सम्मिलित था.

आकांक्षी जिला कार्यक्रम में नीति आयोग ने जैसलमेर को दिया पहला स्थान
फाइल फोटो

जैसलमेर: नीति आयोग के द्धारा भारत चलाया जा रहे आकांक्षी जिला कार्यक्रम में वित्तीय समावेशन तथा कौशल विकास कार्यक्रमों के संचालन के लिए देशभर में जैसलमेर ने प्रथम स्थान प्राप्त किया है. जैसलमेर ने जनवरी-फरवरी 2019 की अवधि के दौरान वित्तीय समावेशन तथा कौशल विकास कार्यक्रमों में उल्लेखनीय प्रगति की है और इसलिए नीति आयोग की रैंकिंग में यह उपलब्धि जैसलमेर को हासिल हुई है. 

नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने जैसलमेर जिले की इस उपलब्धि की जानकारी मुख्य सचिव डीबी गुप्ता को पत्र लिखकर दी है. पत्र में उन्होंने बताया कि जनवरी-फरवरी 2019 के दौरान जैसलमेर जिले के अधिकारियों ने लगातार प्रयासरत रहकर वित्तीय समावेशन तथा कौशल विकास कार्यक्रमों को सफलतापूर्वक संचालित किया है. इसके चलते जिले को देशभर में प्रथम स्थान हासिल हुआ है. इस उपलब्धि पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जैसलमेर जिला प्रशासन तथा जैसलमेर वासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है. सीएम गहलोत ने आशा व्यक्त की है कि इस सफलता पर जैसलमेर जिले को केंद्र से मिलने वाली 3 करोड़ रुपए की अतिरिक्त ग्रांट का भी कलेक्टर और अन्य प्रभारी अधिकारी जिले के विकास में समुचित उपयोग करेंगे. 

नीति आयोग द्धारा चलाये जा रहे आकांक्षी जिला कार्यक्रम के जिला समन्वयक गौरव द्धिवेदी ने बताया कि कार्यक्रम के तहत पूरे भारत से कुल 117 जिले जिसमे राजस्थान के धोलपुर, बांरा, करौली, सिरोही सहित जैसलमेर सम्मिलित था. इस कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, कौशल विकास एवं आधार भूत सुविधाओं सहित कुल 49 पेरामीटर होते हैं. जिसमे से जैसलमेर ने जनवरी-फरवरी माह मे वितीय समावेशन तथा कौशल विकास कार्यक्रम में देश में प्रथम रैकिंग हासिल की है. 

जिसके प्रोत्साहन स्वरूप जिले को 3 करोड़ की अतिरिक्त ग्रांट मिला है. जो जिले के विकास मे सहयोगी होगी. वितीय समावेश के अन्तर्गत मुद्रा योजना, जनधन खाते, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, जीवन ज्योति बीमा, आधार सिडिंग एवं अटल पेंशन योजना में उल्लेखनीय कार्य के तहत जैसलमेर ने यह रैंकिग प्राप्त की है. जिला कलेक्टर नमित मेहता ने इसकी सफलता का श्रेय जिला प्रशासन एवं अन्य अधिकारियों के साझा प्रयासों को दिया और कहा कि अन्य क्षेत्रों में भी प्रथम आने का प्रयास किया जाएगा.