close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: दुष्कर्म मामले के आरोपी 'जीवाणु' के खिलाफ पॉक्सो कोर्ट में आरोप-पत्र पेश

आरोप पत्र में पुलिस की ओर से लगाई गई धाराओं में फांसी तक का प्रावधान है.

राजस्थान: दुष्कर्म मामले के आरोपी 'जीवाणु' के खिलाफ पॉक्सो कोर्ट में आरोप-पत्र पेश
पुलिस ने आरोपी को 7 जुलाई को कोटा से गिरफ्तार किया था. (प्रतीकात्मक फोटो)

महेश पारिक, जयपुर: पॉक्सो मामलों की विशेष अदालत में बुधवार को शास्त्री नगर थाना पुलिस ने 7 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में आरोपी सिकंदर खान उर्फ जीवाणु के खिलाफ आरोप पत्र पेश किया है. आरोप पत्र में आरोपी पर भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 341, 366, 376, 376 एबी और पोक्सो अधिनियम की धारा 3, 4, 5, और धारा 6 के तहत आरोप लगाए गए हैं. बता दें, इन धाराओं में फांसी तक की सजा का प्रावधान है.

आरोप पत्र में कहा गया कि गत एक जुलाई को आरोपी ने बिस्किट लेने गई पीड़िता को उसके पिता को रुपए देने का बहाना बनाकर रोका. पीड़िता की ओर से मस्जिद जाकर खुद ही पिता को रुपये देने का कहने पर आरोपी उसका मुंह दबाकर मोटरसाइकिल से अमानीशाह नाले में ले गया. यहां आरोपी ने उससे मारपीट की और दुष्कर्म किया. 

इस दौरान आरोपी ने पीड़िता के साथ अप्राकृतिक कृत्य भी किया. पीड़िता को जान से मारने की नीयत से आरोपी ने उसे कई बार पत्थरों पर भी पटका. दुष्कर्म के बाद आरोपी उसे घर के पास छोड़ गया और घटना की जानकारी देने पर गोली मारने की धमकी दी. इस मामले में पीड़िता के पिता की रिपोर्ट पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी को 7 जुलाई को कोटा से गिरफ्तार किया. 

किसी को नहीं छोड़ा जीवाणु ने
इस बच्ची से दुष्कर्म करने के अलावा जीवाणु ने दर्जनों दूसरे लोगों के साथ भी अपनी हवस मिटाई. इसमें बच्चों के साथ ही महिलाएं, पुरुष और किन्नर तक शामिल हैं. 26 साल के इस आरोपी को शास्त्री नगर थाने से जुड़े 5 अन्य आपराधिक मामलों में सजा हो चुकी है. जबकि 16 दूसरे मामले लंबित चल रहे हैं.

क्या कहती हैं धाराएं
आरोप पत्र में पुलिस की ओर से लगाई गई धाराओं में फांसी तक का प्रावधान है. आईपीसी की धारा 376एबी में प्रावधान है कि 12 साल से कम उम्र की बच्ची से दुष्कर्म करने पर अदालत आजीवन कारावास के अलावा फांसी तक दे सकती है. वहीं, अन्य धाराओं के तहत मारपीट, अपहरण और दुष्कर्म सहित लैंगिक हमला करना सहित अन्य आरोप लगाए गए हैं.