• 0/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    0बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    0कांग्रेस+

  • अन्य

    0अन्य

राजस्थान: नई सरकार का ऐलान, ऋण माफी प्रमाण पत्र से हटेगा वसुंधरा राजे का फोटो

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने समीक्षा मीटिंग के दौरान इस बदलाव को मंजूरी दी

राजस्थान: नई सरकार का ऐलान, ऋण माफी प्रमाण पत्र से हटेगा वसुंधरा राजे का फोटो
प्रमाण पत्र में किसी का फोटो नहीं लगेगी

आशीष चौहान/जयपुर: राजस्थान में वसुंधरा राजे का राज जाते ही योजनाओं से उनकी फोटो हटने का काम भी शुरू हो गया है. अनुजा निगम के तहत ऋणमाफी योजना में आने वाले एसीएसटी, ओबीसी और किसानों को मिलने वाले ऋणमाफी प्रमाण पत्र पर वसुंधरा राजे का फोटो हटाया जाएगा. सबसे बडी बात ये है कि नए ऋणमाफी प्रमाण पत्र में ना ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का फोटो होगा और ना ही किसी मंत्री का.

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने समीक्षा मीटिंग के दौरान इस बदलाव को मंजूरी दी. अनुजा निगम के तहत अब तक 25 हजार लोगों का कर्जा माफ होना है, जिसमें 2 लाख तक के ऋण माफ होंगे. गौरतलब है कि पिछली वसुंधरा राजे सरकार ने अनुजा निगम के तहत ऋणमाफी की घोषणा की थी, जिसमें 25 हजार किसानों का ऋण माफ होने की प्रक्रिया चल रही है. बाकी ऋणमाफी प्रमाण पत्र में तो वसुंधरा राजे का फोटो लगा था, लेकिन अब जारी होने वाले प्रमाण पत्र में वसुंधरा राजे का फोटो नहीं होगा. 

मास्टर भंवरलाल मेघवाल का कहना है कि 'ऋणमाफी योजना में बीजेपी सरकार ने फोटो की राजनीति की. लेकिन कांग्रेस सरकार फोटो की राजनीति नहीं करेगी. ऋणमाफी प्रमाण पत्र बेहद साधारण होगा, जिसमें ना तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की फोटो होगी और ना ही मेरी फोटो. मंत्री मेघवाल का कहना था कि हो सकता है कि केवल संदेश में सीएम और मंत्री का फोटो लग जाए, लेकिन प्रमाण पत्र में किसी का फोटो नहीं लगेगी.'

पिछली वसुंधरा राजे ने ऋणमाफी प्रमाण पत्र किसानों को बांटे थे तो उसमें वसुंधरा राजे ने खुद का फोटो लगवाया था. लाखों किसानों के प्रमाण पत्र में वसुंधरा राजे का फोटो लगा हुआ है, लेकिन अब गहलोत सरकार के आते ही प्रमाण पत्र का प्रारूप भी बदल गया है. लेकिन इसमें सीएम अशोक गहलोत का फोटो नहीं होगा. यह प्रमाण पत्र बेहद ही साधारण होगा. मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल का कहना है कि 'प्रमाण पत्र का खाका तैयार किया जा चुका है और जल्द ही इसकी मंजूरी दे दी जाएगी.'

अनुजा निगम के तहत किसानों, एससी एसटी और ओबीसी में आने वाले लोगों का ऋण माफ किया गया था, लेकिन उसमें भी देरी हुई. क्योंकि अभी भी 25 हजार किसानों के 171 करोड रूपए का ऋण माफ नहीं हुआ है. अब कांग्रेस सरकार इस अधूरे काम को पूरा करेगी, लेकिन उसमें वसुंधरा राजे का चित्र नहीं होगा.