शीतलहर की चपेट में राजस्थान, फतेहपुर शेखावटी में जमाव बिन्दु पर पहुंचा पारा

रेगिस्तान में सर्दी अपने पूरे शबाब पर है. ऐसे में सर्दी का ठंड का टॉर्चर पूरी तरह से रेगिस्तान के लोगों पर देखा जा सकता है.

शीतलहर की चपेट में राजस्थान, फतेहपुर शेखावटी में जमाव बिन्दु पर पहुंचा पारा
कोहरे से वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है

जयपुर: रेगिस्तान में सर्दी अपने पूरे शबाब पर है. ऐसे में सर्दी का ठंड का टॉर्चर पूरी तरह से रेगिस्तान के लोगों पर देखा जा सकता है. पहाड़ों में हुई बर्फबारी का असर अब मैदानी ओर रेगिस्तान के इलाकों में साफ तौर पर देखा जा सकता है. 

पूरा प्रदेश इन दिनों शीतलहर की चपेट में है. ज्यादातर शहरों में तापमान नीचे गिरा हुआ है. सीकर के फतेहपुर शेखावटी में पारा जमाव बिंदू पर पहुंच गया है. सुबह-सुबह फसलों पर बर्फ की परत जमी हुई नजर आयी. फतेहपुर में न्यूनतम तापमान 0 डिग्री दर्ज किया गया है. जबकि रविवार को तापमान 1.2 डिग्री दर्ज था. ऐसे ही कुछ हालात झुंझुनूं और बीकानेर में भी देखने को मिल रहे हैं.

सर्दी से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं. प्रदेश के कई हिस्सों में आज सुबह से घना कोहरा छाया हुआ है, जिससे लोग अपने घरों में ही दुबके हुए हैं. वहीं कोहरे से वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. 

बारां जिलें में सुबह से ही मौसम ने अचानक करवट ली और बादल छा गए. इस दौरान जिले में कई इलाकों जैसे शाहबाद, समरानियां, केलवाड़ा, हरनावदाशाह जी सहित कई जगह पर तेज बारिश हुई. बारिश से मौसम में ठंडक और तेज हो गई है. मावठ से खेतों में खड़ी फसलों को लाभ होगा, लेकिन सर्दी से जनजीवन प्रभावित हो रहा है और लोग घरों में रहने को मजबूर हैं.

गर्म कपड़ों के साथ लोग खुद को सर्दी से बचाने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं सर्दी से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं लेकिन विजिबिलिटी कम होने की वजह से सबसे ज्यादा परेशानी रोड पर चलने वाले वाहन चालकों को हो रही है क्योंकि ऐसे कोहरे में गाडियो की गति एक दम थम सी गई है, जहां गाड़ियां सड़कों पर रेंगती हुई चल रही हैं यानी पूरा रेगिस्तान ठंड और कोहरे की चपेट में है.