राजस्थान: जेब में मिला तंबाकू तो कर्मचारी के खिलाफ होगा एक्शन, जानें क्यों...

तंबाकू मुक्त सचिवालय बनाने के लिए कुछ निर्देश दिए गए हैं. जिनमें कहा गया है कि सचिवालय में अधिकारी- कर्मचारी और आगुंतक पान मसाले और धूम्रपान का सेवन नहीं करें. 

राजस्थान: जेब में मिला तंबाकू तो कर्मचारी के खिलाफ होगा एक्शन, जानें क्यों...
सचिवालय परिसर के 100 गज के दायरे में तंबाकू उत्पादों की बिक्री निषेध लगाया गया है.

जयपुर: राजस्थान के कर्मचारियों की ओर से धूम्रपान, गुटखे का सेवन नहीं करने का शपथ पत्र दिए जाने के बाद भी सचिवालय में धूम्रपान और गुटखे के सेवन की शिकायतें मिल रही है. जिसको लेकर अब कार्मिक विभाग ने आदेश जारी कर सुरक्षा अधिकारियों को कर्मचारियों और आगुंतकों की जांच करने के निर्देश दिए हैं.

बता दें कि, तंबाकू मुक्त सचिवालय  बनाने के लिए कुछ निर्देश दिए गए हैं. जिनमें कहा गया है कि सचिवालय में अधिकारी- कर्मचारी और आगुंतक पान मसाले और धूम्रपान का सेवन नहीं करें. इसके लिए सुरक्षा अधिकारी कर्मचारियों को कर्मचारियों और आगुंतकों की जांच के निर्देश दिए गए है, जिससे सचिवालय में धूम्रपान और तंबाकू नहीं ले जाया जा सके.

साथ ही, सचिवालय  परिसर के 100 गज के दायरे में तंबाकू उत्पादों की बिक्री निषेध लगाया गया है. हालांकि, अभी भी सचिवालय परिसर के कॉर्नर पर तंबाकू उत्पादों की बिक्री धड़ल्ले से जारी है. 

हालांकि सचिवालय  के अधिकारियों का कहना है कि अब अभियान चलाकर उन थड़ी ठेलों को हटाया जाएगा. नियमों का उल्लंघन कर बिक्री पर 200 रुपए का जुर्माना भी लगाया जाएगा. सचिवालय परिसर के गेट और गलियारों में साइनेज लगाए जाएंगे जिसमें तंबाकू मुक्त सचिवालय लिखा होगा.

इसके साथ ही कार्मिक विभाग ने कहा कि कर्मचारियों की ओर से धूम्रपान, तंबाकू के सेवन की जानकारी मिलती है तो कर्मचारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. अब देखना ये है कि अधिकारियों के तमाम नियमों के बाद सचिलवालय कब तक तंबाकू मुक्त बन पाती है.