Dungarpur में दिखा Tauktae का असर, कई जगहों पर धराशायी हो गए पेड़

रातभर चली तूफानी हवाओं के चलते जिले के आसपुर, डूंगरपुर, सीमलवाड़ा और बिछीवाड़ा क्षेत्र में कई पेड़-पौधे धराशायी हुए हैं.

Dungarpur में दिखा Tauktae का असर, कई जगहों पर धराशायी हो गए पेड़
तेज अंधड़ के कारण कुछ घरों को भी नुकसान हुआ है.

Dungarpur: जिले में चक्रवात ताऊते (Tauktae) तूफान के कारण जिलेभर में भारी नुकसान हुआ है. जिले में कई पेड़ गिरे हैं तो कई जगहों पर बिजली पोल टूट गए हैं, जिससे जिले भर में 16 घंटे से बत्ती गुल है. 

यह भी पढ़ें- Jaipur में Entry लेने वाला है Tauktae तूफान, झमाझम बारिश को लेकर मौसम विभाग का Alert जारी

वहीं, तेज अंधड़ के कारण कुछ घरों को भी नुकसान हुआ है. वहीं, प्रशासन अब व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने में जुटा है. जिला कलेक्टर सुरेश कुमार ओला (Suresh Kumar Ola) ने बताया कि ताऊते तूफान के कारण जिले में भारी नुकसान बताया जा रहा है लेकिन सुकून की बात है कि किसी भी तरह की कोई जनहानि नहीं हुई है. 

यह भी पढ़ें- Rajasthan के Mount Abu में Tauktae तूफान ने मचाई तबाही, तस्वीरें ही दे रही हैं गवाही

कई जगहों पर बिजली के पोल, ट्रांसफार्मर गिर गए 
रातभर चली तूफानी हवाओं के चलते जिले के आसपुर, डूंगरपुर, सीमलवाड़ा और बिछीवाड़ा क्षेत्र में कई पेड़-पौधे धराशायी हुए हैं. वहीं, सीमलवाड़ा क्षेत्र के मंडेला उपली में एक मकान धराशायी हो गया, जिससे घर में सो रहे 2 लोगो को मामूली चोटें आई है. इसी तरह खजूरी में 4 बकरियों की मौत हो गई. वहीं तूफान के कारण जिले में कई जगहों पर बिजली के पोल, ट्रांसफार्मर गिर गए हैं, जिससे जिलेभर में 16 घंटे से बिजली गुल हैं और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. 

बिजली निगम की टीमें कर रहीं काम
जिला कलेक्टर सुरेश कुमार ओला ने बताया कि चक्रवात से हुए नुकसान के आंकलन को लेकर जिलेभर में टीमें निकली हुई हैं. वहीं, बिजली निगम की टीमें बिजली लाइनों को ठीक करने का काम कर रही हैं और शाम तक सभी तरह की व्यवस्थाओं को एक बार फिर शुरू करने के प्रयास किये जा रहे हैं.

Reporter- Akhilesh Sharma