close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में जलशक्ति अभियान के जरिए किया जाएगा पानी की समस्या का समाधान

केंद्र सरकार ने 36 राज्यों और संघ क्षेत्रों की 1593 पंचायत समितियों में 313 क्रिटिकल ब्लॉक्स, 1186 अति दोहित ब्लॉक्स और 94 न्यूनतम भू-जल उपलब्धता वाले ब्लॉक्स के रूप में पहचान की है. 

राजस्थान में जलशक्ति अभियान के जरिए किया जाएगा पानी की समस्या का समाधान
इस अभियान में राजस्थान के भी कई ब्लॉक्स शामिल है.

जयपुर: देश में गहराते जल संकट के निवारण के लिए केंद्र सरकार की पहल पर राज्य सरकार जल शक्ति अभियान चलाएगी. जल शक्ति अभियान के तहत जल संरक्षण, परम्परागत और दूसरे जलाशयों का जीर्णोंद्वार, बोरवेल रिचार्ज स्ट्रक्चर्स का रियूज किया जाएगा. गांव- गांव, पंचायत-पंचायत, तालाब, बावडियों और दूसरे जल स्रोतो का विकास किया जाएगा. 

केंद्र सरकार ने 36 राज्यों और संघ क्षेत्रों की 1593 पंचायत समितियों में 313 क्रिटिकल ब्लॉक्स, 1186 अति दोहित ब्लॉक्स और 94 न्यूनतम भू-जल उपलब्धता वाले ब्लॉक्स के रूप में पहचान की है. जिसमें राजस्थान के भी कई ब्लॉक्स शामिल है. 

अभियान के तहत ब्लॉक और जिला जल संरक्षण योजना का निर्माण, जिसे जिला सिंचाई योजना के साथ मर्ज किया जायेगा.प्रदेश में जल शक्ति अभियान के क्रियान्वयन और मॉनिटरिंग के लिए ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग के एसीएस राजेश्वर सिंह को नोड अधिकारी नियुक्त किया गया है.

ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग के एसीएस राजेश्वर सिंह ने बताया कि  सिंह ने बताया कि अभियान के तहत ब्लॉक एवं जिला जल संरक्षण योजना का निर्माण, जिसे जिला सिंचाई योजना के साथ समन्वित किया जायेगा. इसके साथ-साथ सिंचाई में निपुण जल उपयोग और जल उपलब्धता के अनुसार उपयुक्त फसल के चयन को प्रोत्साहित किया जायेगा और कृषि एवं उद्यानिकी उद्देश्यों के लिए शहरी अपशिष्ट जल का पुन उपयोग सुनिश्चित्त किया जायेगा.     

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार के लगभग सभी विभागों के विभागाध्यक्षों, स्वायत्तशासी निकायों, जल प्रबन्धन एवं संरक्षण से सम्बधित विभागों के प्रतिनिधियों को राज्य स्तर पर और जिला स्तर पर गठित किये जाने वाले कोर ग्रुप में सम्मिलित किया जायेगा. जल शक्ति अभियान के तहत प्रदेश के सभी जिलों में जिला कोर ग्रुप के तत्वावधान में एक जुलाई को दोपहर 3 बजे अभियान की जिला स्तरीय तैयारी बैठक आयोजित की जायेगी.

इस बैठक में जन प्रतिनिधि, जिला स्तरीय अधिकारी, स्वंयसेवी संगठन, सामाजिक कार्यकर्ता, नेहरू युवा केन्द्र से सम्बधित युवा संगठन तथा एनसीसी, एनएसएस, स्काउट एवं गाईड से जुड़े छात्रों को आमंत्रित कर अभियान की जानकारी प्रदान की जायेगी, अभियान की सफलता के लिए कार्य योजना तैयार की जाएगी.