राजस्थान में सर्दी का सितम जारी, रेगिस्तान बना बर्फिस्तान

प्रदेश में कड़ाके की सर्दी का सितम जारी है. सर्दी का रुख अभी नरम पड़ता नजर नहीं आ रहा है. वहीं आने वाले चार दिन प्रदेश में सर्दी के लिहाज से और सताने वाले साबित हो सकते हैं. 

राजस्थान में सर्दी का सितम जारी, रेगिस्तान बना बर्फिस्तान
खेतों में बर्फीली चादर

जयपुर: प्रदेश में कड़ाके की सर्दी का सितम जारी है. सर्दी का रुख अभी नरम पड़ता नजर नहीं आ रहा है. वहीं आने वाले चार दिन प्रदेश में सर्दी के लिहाज से और सताने वाले साबित हो सकते हैं. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में प्रदेश के 19 जिलों में रेड अलर्ट जारी कर दिया है. इसके साथ 31 दिसम्बर से लेकर 2 जनवरी तक प्रदेश के करीब एक दर्जन जिलों में मौसम विभाग ने ऑरेंज और यलो अलर्ट भी जारी किया है.

मौसम विभाग चूरू, हनुमानगढ़, गंगानगर, सीकर, झुंझनूं, अलवर, बीकानेर, जैसलमेर, दौसा, भरतपुर, धौलपुर, अजमेर, जयपुर, टोंक, उदयपुर, चित्तौड़गढ़, बूंदी, कोटा, सवाई माधोपुर में रेड अलर्ट जारी किया है. साथ ही प्रशासन को भी सतर्कता बरतते हुए आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. 
    
राजस्थान के रेगिस्तान में भी पिछले 55 सालों में इतनी कड़ाके की सर्दी का सामना लोगों को नहीं हुआ था. 1964 के बाद प्रदेश के लोगों को हाड़ कंपानेवाली ठंड ने हिला कर रख दिया है. खेतों में बर्फीली चादर दिख रही है. सड़क पर कोहरे का साया है. पानी में बर्फ का करंट दौड़ रहा है. नए साल पर सर्दी के इस सितम से लोगों की कंपकपी छूट रही है. इस जानलेवा सर्दी में लोगों को बस अलाव का ही सहारा है. मरूधारा की भूमि पर रेत का गुबार नहीं फॉग का झोंका लोगों को डरा रहा है. राजधानी जयपुर में लोगों को अब सर्दी का ये भयानक टार्चर सहन नहीं हो पा रहा है. बीते चार दिनों से प्रदेश में दिन और रात के तापमान में जबरदस्त गिरावट आई है. वहीं एक दर्जन जिलों में बारिश के साथ ही ओलावृष्टि की संभावना ने लोगों को और भी डरा दिया है.

जयपुर के आमेर इलाके में कोहरे की वजह से सड़क पर आठ वाहनों की टक्कर हो गई, जिसमें आधा दर्जन लोग घायल हो गए. हादसे के बाद सड़क पर जाम लग गया और यात्रियों में चीख-पुकार मच गई. आलम ये हैं, कि जयपुर एयरपोर्ट पर घने कोहरे के चलते विमानों के लैडिंग और टेक ऑफ में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. कोहरे के चलते एक दर्जन से अधिक फ्लाइटों का समय शेड्यूल बिगड़ा तो जयपुर एयरपोर्ट से कुछ फ्लाइटों को अहमदाबाद डायवर्ट करना पड़ा. ठंड का सबसे ज्यादा कहर सीकर में दिख रहा है. लगातार दो दिन तापमान माइनस में रहने के बाद पारा शून्य दशमलव पांच डिग्री दर्ज किया गया है. तेज सर्दी से बचाव के लिए लोग जगह-जगह पर अलाव जलाकर राहत पाने की जुगत कर रहे हैं. नागौर में कड़ाके की ठंड के चलते एक तरफ जहां लोगों का घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है. पिछले एक सप्ताह से भी ज्यादा समय से जारी शीतलहर का असर पूरे जिले में देखा जा रहा है.

कोटा में हाड़कंपाने वाली ठंड
कोटा में भी हाड़ कंपाने वाली सर्दी जारी है. कोटा में आज 2.8 डिग्री तापमान दर्ज हुआ है, जिसने 55 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. इससे पहले 1964 में 3.8 डिग्री पारा दर्ज किया गया था. घने कोहरे के कारण यातायात भी बुरी रह प्रभावित हो रहा है.

बारां में 3 डिग्री पहुंचा तापमान 
बारां जिला में इस बार सर्दी का सितम अपने पूरे शबाब पर है. बारां में तापमान 3 डिग्री से नीचे तक पहुंच गया है. कड़ाके की सर्दी की वजह से जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है.

राजस्थान में सर्दी का सितम का सिलसिला अभी लंबा चलने वाला है. कड़ाके की सर्दी में लोग किसी तरह ठंड से बचने की जद्दोजहद में लगे हैं. वहीं घने कोहरे ने सड़क पर हदासे का आतंक मचा रखा है.

 

अजमेर- अधिकतम 20.2 डिग्री,न्यूनतम 3.1 डिग्री
अलवर- अधिकतम 14.2 डिग्री,न्यूनतम 2 डिग्री
जयपुर- अधिकतम 16.9 डिग्री,न्यूनतम 2.7 डिग्री
पिलानी- अधिकतम 12.6 डिग्री,न्यूनतम 2.8 डिग्री
सीकर- अधिकतम 20.5 डिग्री,न्यूनतम 1 डिग्री
कोटा- अधिकतम 15.9 डिग्री,न्यूनतम 5.7 डिग्री
सवाईमाधोपुर- अधिकतम 14.7 डिग्री,न्यूनतम 4.5 डिग्री
चित्तौड़गढ़- अधिकतम 20.9 डिग्री,न्यूनतम 5.9 डिग्री
डबोक- अधिकतम 20.6 डिग्री,न्यूनतम 5 डिग्री
बाड़मेर- अधिकतम 23.6 डिग्री,न्यूनतम 6.2 डिग्री
जैसलमेर- अधिकतम 17.7 डिग्री,न्यूनतम 2.8 डिग्री
जोधपुर- अधिकतम 23.2 डिग्री,न्यूनतम 7.7 डिग्री
माउंटआबू- अधिकतम 17.6 डिग्री,न्यूनतम 2.2 डिग्री
फलौदी- अधिकतम 20.6 डिग्री,न्यूनतम 2.8 डिग्री
बीकानेर- अधिकतम 17.5 डिग्री,न्यूनतम 2.7 डिग्री
चूरू- अधिकतम 13.5 डिग्री,न्यूनतम 3.6 डिग्री
श्रीगंगानगर- अधिकतम 8.1 डिग्री,न्यूनतम 2.1 डिग्री