Zee Rozgar Samachar

Republic Day 2021: गणतंत्र दिवस पर पहली बार दिखेगा राफेल, जानें कब और कहां देख पाएंगे रिपब्लिक डे परेड

गणतंत्र दिवस (Republic Day 2021) को लेकर विशेष तैयारियों की गई हैं और इस मौके पर भारत पहली बार राफेल लड़ाकू विमानों (Rafale Fighter Jet) की उड़ान के साथ T-90 टैंकों, समविजय इलेक्ट्रॉनिक युद्धक प्रणाली, सुखोई-30 MKI लड़ाकू विमानों समेत अपनी सैन्य शक्ति का प्रदर्शन करेगा.

Republic Day 2021: गणतंत्र दिवस पर पहली बार दिखेगा राफेल, जानें कब और कहां देख पाएंगे रिपब्लिक डे परेड
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारत आज (26 जनवरी) अपना 72वां गणतंत्र दिवस (Republic Day 2021) मना रहा है. राजपथ (Rajpath) पर गणतंत्र दिवस को लेकर विशेष तैयारियों की गई हैं. इस मौके पर भारत पहली बार राफेल लड़ाकू विमानों (Rafale Fighter Jet) की उड़ान के साथ T-90 टैंकों, समविजय इलेक्ट्रॉनिक युद्धक प्रणाली, सुखोई-30 MKI लड़ाकू विमानों समेत अपनी सैन्य शक्ति का प्रदर्शन करेगा.

कब शुरू होगा गणतंत्र दिवस समारोह (Republic Day 2021)?

ध्वजारोहण (झंडा फहराना) का कार्यक्रम सुबह 8 बजे होगा. गणतंत्र दिवस परेड (Republic Day Parade) सुबह करीब 9 बजे शुरू होगी और 11.30 बजे तक चलेगी.

कैसे देख सकते हैं गणतंत्र दिवस पर होने वाले कार्यक्रम?

गणतंत्र दिवस (Republic Day 2021) कार्यक्रम का प्रसारण दूरदर्शन पर किया जाएगा. इसके अलावा आप Zee News पर भी समारोह का लाइव प्रसारण और अपडेट देख सकते हैं.

मोबाइल पर कैसे देख सकते हैं पूरा कार्यक्रम?

गणतंत्र दिवस (Republic Day 2021) कार्यक्रम की लाइव स्ट्रीमिंग दूरदर्शन के YouTube चैनल पर की जाएगी. इसके अलावा PIB के यूट्यूब चैनल पर भी रिपब्लिक डे परेड को लाइव देख सकते हैं. केंद्र सरकार द्वारा लॉन्च रिपब्लिक डे परेड 2021 ऐप पर भी कार्यक्रम को लाइव दिखाया जाएगा, जिसे प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है.

VIDEO

पीएम नरेंद्र मोदी ने दी गणतंत्र दिवस की बधाई

गणतंत्र दिवस के मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर देशवासियों को बधाई दी. उन्होंने लिखा, 'देशवासियों को गणतंत्र दिवस की ढेरों शुभकामनाएं. जय हिंद.'

लाइव टीवी

इस बाद छोटा होगा परेड का रूट

कोरोना वायरस महामारी के कारण इस बार गणतंत्र दिवस परेड को छोटा किया गया है और इस बार समारोह में भी कम लोग शामिल होंगे. इस बार परेड लाल किले तक नहीं जाएगी और परेड विजय चौक से नेशनल स्टेडियम तक ही जाएगी. पहले परेड 8.2 किलोमीटर की परेड होती थी, लेकिन इस बार परेड 3.3 किलोमीटर की ही होगी. पहले हर दस्ते में 144 जवान होते थे, जबकि इस बार हर दस्ते में 96 जवान होंगे और दो गज की दूरी का भी ख्याल रखा जाएगा. पहले समारोह में एक लाख पंद्रह हजार लोग शामिल होते थे, लेकिन इस बार 25 हजार लोगों को ही इजाजत होगी.

इस बार परेड में पेश होंगी 17 राज्यों की झांकी

परंपरा के मुताबिक झंडा (Tri Color National Flag) फहराने के बाद राष्ट्रगान (National Anthem) और 21 तोपों की सलामी दी जाएगी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) के सलामी लेने के बाद परेड की शुरुआत होगी. इस बार 17 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में -गुजरात, असम, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, पंजाब, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, उत्तरप्रदेश, कर्नाटक, केरल, आंध्रप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, दिल्ली और लद्दाख की झांकी पेश की जाएगी.

समारोह में कोई नहीं होगा विदेशी चीफ गेस्‍ट

गणतंत्र दिवस 2021 (Republic Day 2021) के मौके पर इस साल कोई चीफ गेस्ट नहीं होगा. ऐसा 50 सालों में पहली बार होगा जब कोई चीफ गेस्ट नहीं होगा. बता दें, शुरू में, ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन को भारत आने के लिए आमंत्रित किया गया था. लेकिन, ब्रिटेन में एक नए कोविड-19 स्ट्रेन के बढ़ते प्रकोप के चलते उन्हें अपनी यात्रा रद्द करने के लिए मजबूर होना पड़ा. इससे पहले, भारत के पास 1952, 1953 और 1966 में परेड के लिए मुख्य अतिथि नहीं थे.

इस साल नहीं होगा कोई मोटरसाइकिल स्टंट

COVID-19 सुरक्षा मानदंडों के चलते, मोटरसाइकिल से चलने वाले पुरुषों के करतब (स्टंट) जो राजपथ पर गणतंत्र दिवस समारोह में भीड़ के लिए एक प्रमुख आकर्षण होता है, इस साल गायब हो जाएगा. अधिकारियों ने कहा कि इसके अलावा, वीरता पुरस्कारों की परेड और बहादुरी पुरस्कार हासिल करने वाले बच्चे भी 72वें गणतंत्र दिवस समारोह में नहीं होंगे.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.