पश्चिम बंगाल: आठ साल में नहीं हुआ कोई क्राइम, इस गांव को मिला 'नो क्राइम विलेज अवॉर्ड'

साल 2011 के बाद से यहां न ही कोई अपराध देखा गया है न ही किसी राजनैतिक दल के बीच झड़प जैसी कोई खबरें आई हैं.

पश्चिम बंगाल: आठ साल में नहीं हुआ कोई क्राइम, इस गांव को मिला 'नो क्राइम विलेज अवॉर्ड'
यह गांव बांकुड़ा जिले का सबसे शांतिपूर्ण गांव माना जाता है.

बांकुड़ा: पश्चिम बंगाल (West Bengal) से आए दिन राजनीतिक गुटों में झड़प और कार्यकर्ताओं की हत्या के मामले सामने आते रहते हैं. ऐसे में इस राज्य से एक सुकून देने वाली खबर सामने आई है. दरअसल, पश्चिम बंगाल (West Bengal) के बांकुड़ा (Bankura) जिले में एक ऐसा गांव है जहां अपराध तो दूर पिछले आठ साल में थाने में एक भी शिकायत दर्ज नहीं हुई है. यहां न ही कोई अपराध देखा गया है न ही किसी राजनैतिक दल के बीच झड़प जैसी कोई खबरें आई हैं.

बांकुड़ा जिले के इंडस थाने के अंतर्गत आने वाले मेंडाल गांव में 8 साल से न कोई शिकायत न ही कोई FIR दर्ज हुई है. इसी को देखते हुए मेंडाल ग्राम को बांकुड़ा जिला पुलिस ने 'नो क्राइम विलेज अवॉर्ड' से नवाजा है. 

मेंडाल गांव में 150 परिवार रहता है. यह गांव बांकुड़ा जिले का सबसे शांतिपूर्ण गांव माना जाता है. जानकारी के मुताबिक साल 2011 में आखिरी बार यहां दो राजनैतिक गुटों के बीच झड़प की घटना सामने आई थी. उसके बाद ये यहां किसी तरह का अपराध नहीं हुआ. आलम तो यह है कि पुलिस भी इस गांव का रास्ता भूल चुकी है. 

लाइव टीवी देखें

मेंडाल गांव की एक खास बात यह भी है कि यहां शांति बनाए रखने के लिए एक ग्राम प्रबंधन कमेटी का गठन किया गया है. यह कमेटी छोटे-मोटे झगड़ों को आपस में बातचीच के जरिए सुलझा देती है. इसलिए पिछले आठ साल में यहां पुलिस थाने में कोई शिकायत दर्ज नहीं हुई है. यही कारण है कि पुलिस ने इस गांव को 'नो क्राइम विलेज अवॉर्ड' से नवाजा है. गांव के लोग भी इस घोषणा से काफी खुश हैं. वो चाहते हैं कि दूसरे गांव भी इस गांव को आदर्श मानकर शांति की मिसाल बनाएं.