नमस्ते ट्रंप: मोटेरा स्टेडियम में PM मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत में अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम का आयोजन किया गया. 

नमस्ते ट्रंप: मोटेरा स्टेडियम में PM मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

अहमबाद: अमेरिकी राष्ट्रपति और उनकी पत्नी मलेनिया ट्रंप के स्वागत में 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम का आयोजन किया गया.  इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप की यात्रा भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है. पेश है उनके भाषण की पांच बड़ी बातें- 

1-पीएम मोदी ने कहा, 'इस कार्यक्रम का जो नाम है- नमस्ते, उसका मतलब बहुत गहरा है, ये दुनिया की प्राचीनतम भाषाओं में से एक, संस्कृत भाषा का शब्द है। इसका भाव है- सिर्फ व्यक्ति को ही नहीं, उसके भीतर व्याप्त देवत्व को भी नमन।' 

2- उन्होंने कहा, 'अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की यह यात्रा, भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है। एक ऐसा अध्याय, जो अमेरिका और भारत के लोगों की प्रगति और समृद्धि का नया दस्तावेज बनेगा' 

3- प्रधानमंत्री ने कहा, 'यह धरती गुजरात की है लेकिन आपके स्वागत के लिए जोश पूर हिन्दुस्तान का है। राष्ट्रप​ति ट्रंप का अपने परिवार के साथ यहां आना भारत-अमेरिका रिश्तों को एक परिवार जैसी मिठास और घनिष्ठता की पहचान दे रहा है.' 

4-उन्होंने कहा, 'प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप, आपका यहां होना सम्मान की बात है। अमेरिका के लिए आपने जो किया है, उसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। समाज में बच्चों के लिए आप जो कर रही हैं, वो प्रशंसनीय है.'

5- प्रधानमंत्री ने कहा, 'अमेरिका जहां स्वतंत्रता की धरती है वहीं भारत पूरे विश्व को एक मानता है. अमेरिका जहां स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी को महत्व देता है वहीं भारत दुनिया के सबसे बड़े स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर गर्व करता है. ' 

6-आज 130 करोड़ भारतवासी मिलकर न्यू इंडिया का निर्माण कर रहे हैं. हमारी युवा शक्ति आकांक्षाओं से भरी हुई है. बड़े लक्ष्य रखना, उन्हें प्राप्त करना, आज न्यू इंडिया की पहचान बन रहा है. 

7-आज भारत में दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम ही नहीं है, आज भारत दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ एश्योरेंस स्कीम भी चला रहा है। 

8-आज भारत में दुनिया का सबसे बड़ा सोलर पार्क ही नहीं बन रहा, आज भारत में दुनिया का सबसे बड़ा सेनीटेशन प्रोग्राम भी चल रहा है. 

9-आज भारत एक साथ सबसे ज्यादा सैटेलाइट भेजने का वर्ल्ड रिकॉर्ड ही नहीं बना रहा, आज भारत सबसे तेज वित्तीय समावेशन करके भी वर्ल्ड रिकॉर्ड बना रहा है.

1010-हम सिर्फ इंडो-पेसिफिक क्षेत्र में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया की शांति, प्रगति और सुरक्षा में एक प्रभावी योगदान दे सकते हैं। और इसलिए मैं मानता हूं कि राष्ट्रपति ट्रंप का इस दशक की शुरुआत में ही भारत आना एक बहुत बड़ा अवसर है.