close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अजमेर: रेलवे ट्रेक पर हुई हत्या की गुत्थी सुलझी, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि दो दिन पहले रामपुरा रेलवे ट्रेक पर नग्न अवस्था में लाश मिली थी. जिसे आत्महत्या की शक्ल देने का प्रयास किया गया था. 

अजमेर: रेलवे ट्रेक पर हुई हत्या की गुत्थी सुलझी, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
पुलिस ने आरोपी को जोधपुर से हिरासत में लिया.

अजमेर: ब्यावर सदर थाना पुलिस ने दो दिनों के भीतर अनसुलझी गुत्थी को सुलझाते हुए हत्याकांड का पर्दाफाश कर दिया है. अजमेर पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करन बड़ी सफलता हासिल की है. बता दें कि दो दिन पहले रेलवे ट्रेक पर एक युवक की लाश मिली थी. वहीं, इस मामले में पुलिस ने हत्या की आशंका जताई थी. जिसके बाद पुलिस ने इसको लेकर अपनी छानबीन शुरू की और मुख्य आरोपी चांद काठात को गिरफ्तार कर लिया.

डिप्टी हीरालाल सैनी ने बताया कि दो दिन पहले रामपुरा रेलवे ट्रेक पर नग्न अवस्था में लाश मिली थी. जिसे आत्महत्या की शक्ल देने का प्रयास किया गया था. लेकिन स्थिति के मुताबिक आत्महत्या के बजाय हत्या का होने की संभावना ज्याद लग रही थी. वहीं परिस्थितियों को देखते हुए पुलिस ने अपनी छानबीन में पाया कि मृतक पप्पु काठात एक सीधे सरल स्वाभाव का व्यक्ति था और उसकी किसी से खास दुश्मनी भी नहीं थी. 

पुलिस के मुताबिक ऐसे में इस हत्याकांड की गुत्थी और उलझ गई. लेकिन तभी पुलिस ने मुखबीरी कर रिको एरिया में चांद काठात के बारे में पता किया, जिसका रिकॉर्ड भी आपराधिक रहा है. पहले भी चांद काठात पर बाइक चोरी सहित अन्य क्राइम में लिप्त होने के प्रमाण पाये गए. तभी पुलिस ने आरोपी की खोजबीन शुरु की और आरोपी को गिरफ्तार किया. 

वहीं, आरोप ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि उसको शक था कि मंजू नामक एक महिला उससे दूर होने पर पप्पु काठात के साथ घूमती थी. ऐसे में शराब के नशे में उक्त आरोपी चांद काठात ने पप्पु काठात को रेलवे ट्रेक के समीप बुलाया आौर शराब पिलाई. आरोपी के मुताबिक चांद काठात रिको में अपने पिता के चाय का ठेला होने के कारण रिको में घुमता रहता था. वहीं पर मृतक पप्पु काठात द्वारा मजदूरी करने के दौरान उससे सम्पर्क हआ था. 

29 सितंबर की रात भी चांद काठात रिको से पप्पु काठात को शराब पिलाने के लिए रामपुरा बलाईयान स्थित मंदिर के समीप ले गया और शराब का सेवन किया. उसके बाद चांद काठात ने पप्पु काठात के सिर पर पत्थर से वार किया तथा स्काफ से गला गोंटकर उसे मार डाला. सबूत मिटाने के लिये चांद काठात ने पप्पु काठात के सभी कपडे, सिम को जला दिया और वहां से फरार होकर पहले जयपुर फिर जोधपुर के लिए रवाना हो गया. जिसके बाद पुलिस ने खोजबीन कर आरोपी को जोधपुर से हिरासत में लिया और कड़ाई से पुछताछ की तो आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया.