close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अजमेर का महिला अस्पताल हुआ अव्यवस्थाओं का शिकार, जनता बेहाल

लोगों का ये भी कहना है कि अस्पताल में पानी की किल्लत है जिसके कारण सभी को रुपए देकर पानी खरीदना पड़ रहा है. परिसर में लगी प्याऊ और मशीन दोनों ही खराब पड़े हैं.

अजमेर का महिला अस्पताल हुआ अव्यवस्थाओं का शिकार, जनता बेहाल
अस्पताल परिसर में गंदगी के साथ-साथ जानवरों का जमावड़ा है.

अजमेर: राजस्थान के अजमेर का महिला अस्पताल अपनी बदहाली पर रोने को मजबूर है. संभाग के सबसे बड़े महिला अस्पताल में अजमेर ही नहीं नागौर, भीलवाड़ा, टोंक से भी लो अपने परिजनों को लेकर पहुंचते हैं. लेकिन उन्हें मूलभूत सुविधाओं से भी जूझना पड़ रहा है. पीड़ित लोगों का कहना है कि अस्पताल परिसर में गंदगी के साथ-साथ जानवरों का जमावड़ा है जो रोजाना लोगों को परेशान करते हैं.

यही नहीं अस्पताल के भीतर सफाई व्यवस्था ठीक नहीं और सुरक्षा गार्ड भी अपनी मनमानी करते हैं. ऐसे में मरीज का इलाज भी राम भरोसे ही किया जा रहा है. लोगों का कहना है कि गरीब और असहाय लोगों के लिए महिला अस्पताल ही इलाज कराने का आखिरी ठिकाना है, इसलिए मजबूरन सभी को यहीं पर आना पड़ता है 

साथ ही लोगों का ये भी कहना है कि अस्पताल में पानी की किल्लत है जिसके कारण सभी को रुपए देकर पानी खरीदना पड़ रहा है. परिसर में लगी प्याऊ और मशीन दोनों ही खराब पड़े हैं. वहीं अस्पलात के कैंटीन के प्याऊ से लोगों को 5 रुपए देकर पानी की बोतल भर पाते हैं. यह खेल यहां के कैंटीन संचालक व अस्पताल से जुड़े लोगों की देखरेख में किया जाता है. 

यहां तक कि अस्पताल में गर्मी से परेशान मरीजों के लिए खुद ही पंखे खरीद कर लाने पड़ते हैं. यही नहीं अस्पताल परिसर में नहाने धोने की सुविधाएं तो है लेकिन इन सुविधाओं के नाम पर 20 से 30 रुपए लिए जाते हैं. जिसके कारण परिजनों को बाहर जाना पड़ता है. इन सभी समस्याओं के बीच कई दिनों तक मरीज के परिजन अस्पताल परिसर में दिन गुजारने को मजबूर है.

इन सभी समस्याओं को लेकर जब अस्पताल अधीक्षक से बातचीत की गई तो उन्होंने व्यवस्थाओं में कमी को लेकर जल्द सुचारू करने का आश्वासन दिया. उन्होने माना कि अस्पताल में कमियों की कमी नहीं है. साथ ही उन्होंने जी मीडिया को आश्वस्त किया कि जो मुद्दे पर शिकायत थी मीडिया द्वारा मिली है उन्हें जल्द ही दूर किया जाएगा.