close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नेतागिरी नहीं आई काम, रामगंजमंडी नगर पालिका ने आखिर चला ही दिया बुलडोजर

रामगंजमंडी नगर पालिका(Rajganjmandi Muncipality) ने रविवार तड़के अतिक्रमण हटाने की बड़ी कार्रवाई(Anti Encroachment Drive) करते हुए बेशकीमती भूमि पर बरसों से बनी दुकानों को ध्वस्त कर दिया. 

नेतागिरी नहीं आई काम, रामगंजमंडी नगर पालिका ने आखिर चला ही दिया बुलडोजर
विरोध के मद्देनजर पूरा इलाका पुलिस छावनी बना रहा.

कोटा: रामगंजमंडी नगर पालिका(Rajganjmandi Muncipality) ने रविवार तड़के अतिक्रमण हटाने की बड़ी कार्रवाई(Anti Encroachment Drive) करते हुए बेशकीमती भूमि पर बरसों से बनी दुकानों को ध्वस्त कर दिया. 

इस दौरान पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के साथ भारी संख्या में पुलिस का जाब्ता तैनात रहा. अतिक्रमण मुक्त कराई गई भूमि की कीमत(Price Of Land) करीब 3 करोड़ रुपये बताई जा रही है.

कई सालों से था कब्जा बरकरार
बता दें, रामगंजमंडी के पूर्व पालिका चेयरमैन विजय गौतम के भाई अशोक शर्मा ने जुल्मी रोड पर बीते कई सालों से बेशकीमती सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर रखा था. उन्होंने भूमि पर दुकानें बना रखी थी. मामला पूर्व पालिकाध्यक्ष के भाई का होने से बरसों से नगरपालिका अतिक्रमण हटाने की हिम्मत नहीं दिखा पाई. पूर्व पालिकाध्यक्ष विजय गौतम को कोटा उत्तर के पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल का समर्थक माना जाता है. 

रविवार तड़के हुई कार्रवाई शुरू
रविवार तड़के नगरपालिका के दस्ते ने भारी पुलिस बल के साथ अतिक्रमण हटाना शुरू किया. विरोध के मद्देनजर पूरा इलाका पुलिस छावनी बना रहा. किसी को भी मौके पर नहीं आने दिया गया.

चल रहा था अवैध शराब का धंधा
दुकानों को तोड़ा तो समीप में अतिक्रमण करके बनाया गया कमरा भी तोड़ने पहुंचे दस्ते के लोगों को देखकर कमरे में सोया एक जना भाग गया. इस कमरे को खोलने पर उसमें देशी शराब के कैरेट मिले. पूछताछ में उप जिला कलेक्टर को लोगों ने बताया कि इसमें शराब का अवैध ठेका संचालित हो रहा था. यह शराब का ठेका किसका था, इसके बारे में लोगो ने अलग अलग मत व्यक्त किए.