close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बारां: गांव के लोगों के लिए आफत बनी क्षतिग्रस्त पुलिया, रोज होते हैं हादसे!

पिछ्ले दो माह से पुलिया पर पानी चलने से रास्ता बंद है और आवागमन प्रभावित हो रहा है. बापचा थाना सहित आधा दर्जन गांवो का संपर्क कटा हुआ है. 

बारां: गांव के लोगों के लिए आफत बनी क्षतिग्रस्त पुलिया, रोज होते हैं हादसे!
कई सवारी आए दिन नदी मे बह रही हैं.

राम मेहता, बारां: निर्माण विभाग के अधिकारीयों की लापरवाही और जन प्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण पिछले दो वर्षों में भी जेपला की बेथली नदी का पुल नहीं बनने से ग्रामीण अपनी जान को जोखिम में डाल कर पुरानी खस्ताहाल पुलिया पार करने को मजबूर हैं.

पिछ्ले दो माह से पुलिया पर पानी चलने से रास्ता बंद है और आवागमन प्रभावित हो रहा है. बापचा थाना सहित आधा दर्जन गांवो का संपर्क कटा हुआ है. लोग उफनती पुलिया को पेदल और बाइकों से पार कर रहे हैं. जिस कारण लोग बाइक सहित गिर जाते हैं तो किसी की बाइक पुलिया से गिर कर बह जाती है. कई सवारी आए दिन नदी मे बह रही हैं. यदि मौके पर लोग नहीं रहें तो प्रति दिन यहां संभावित हादसों को रोक नहीं सकतें.

किन्तु इसकी परवाह किसी को नहीं है. मंगलवार शाम को भी आधा दर्जन से अधिक सवारियों से भरी एक ट्रेक्टर ट्रॉली पुलिया से गिर गई. हालांकि, बडा हादसा टल गया क्योंकि किसी तरह से लोग अपनी जान बचाने का प्रयास करते रहे. एक युवक की बाइक बह गई थी जिसे निकाला गया. इससे पूर्व भी पुलिया से तीन जने बहे थे. जिन्हे निकाला गया था. कुछ दिन पूर्व एक टीचर की बाइक बह गई थी.