close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आरसीए चुनाव में वैभव गहलोत की जीत में इन्होंने निभाई चाणक्य की भूमिका...

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर डूडी ने जिस तरह से वैभव गहलोत के समक्ष ताल ठोकी उसे वैभव गहलोत के लिए राह आसान नहीं थी.

आरसीए चुनाव में वैभव गहलोत की जीत में इन्होंने निभाई चाणक्य की भूमिका...
इस जीत में रणनीतिक भूमिका निभाने वाले सबसे अहम व्यक्ति कांग्रेस के ही एक नेता हैं.

जयपुर: राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष पद पर वैभव गहलोत की जीत का सेहरा सीपी जोशी सहित कई नेताओं के सर बांधा जा रहा है. लेकिन इस जीत में रणनीतिक भूमिका निभाने वाले सबसे अहम व्यक्ति कांग्रेस नेता धर्मेंद्र राठौड़ रहे हैं. असली में सीपी जोशी के अनुभव का लाभ निश्चित तौर पर वैभव गहलोत को मिला. वहीं, इस चुनाव में जिस तरीके से कांग्रेस ही कांग्रेस के समक्ष खड़ी हो गई. 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर डूडी ने जिस तरह से वैभव गहलोत के समक्ष ताल ठोकी उसे वैभव गहलोत के लिए राह आसान नहीं थी. लेकिन पिछले 10 साल से वैभव गहलोत के लिए राजनीतिक गुरु के तौर पर काम कर रहे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेहद विश्वस्त नेता धर्मेंद्र राठौड़ ने इन विपरीत परिस्थितियों में भी हालातों को आसान बनाया. धर्मेंद्र राठौड़ के पास ही आरसी के चुनाव की पूरी रणनीति बनाने की जिम्मेदारी थी. वह खुद और उनकी खास टीम लगातार 1 महीने से इस मिशन पर काम कर रही थी. 

राजस्थान में सभी जिला संघों को साधने और उन्हें साथ रखने के काम को अंजाम दिया. आखरी समय में जब लगा कि निर्विरोध निर्वाचन नहीं हो पाएगा तब सभी पदाधिकारियों को एक साथ बनाए रखने का जिम्मा भी धर्मेंद्र राठौड़ के पास ही था. धर्मेंद्र राठौड़ के पास वैभव गहलोत के लोकसभा चुनाव की भी जिम्मेदारी थी लेकिन लोकसभा चुनाव में हार से राठौड़ बेहद मायूस थे. लेकिन आरसीए की इस जीत के बाद वह बेहद खुशी महसूस कर रहे हैं. 

बेहद शांत सरल और लो प्रोफाइल रहने वाले धर्मेंद्र राठौड़ ने जी मीडिया से बातचीत में कहा की वैभव गहलोत की इस जीत से राजस्थान में क्रिकेट में नए युग की शुरुआत होगी. वैभव गहलोत खुद क्रिकेट को पसंद करने वाले व्यक्ति हैं आईपीएल की कमेटियों में रहकर उन्होंने सीपी जोशी के साथ काम किया है. उनकी इस ताजपोशी से आने वाले दिनों में राजस्थान में क्रिकेट नई ऊंचाइयों पर पहुंचेगा. 

वहीं, रामेश्वर डूडी के से मतभेदों के सवाल पर प्रबंध राठौड़ ने कहा डूडी जी कांग्रेस परिवार के सदस्य हैं. मतभेद जैसी कोई बात नहीं है उन्होंने हमेशा वैभव गहलोत का स्वागत किया है अब जब चुनाव हो चुका है तो उन्हें मना लिया जाएगा.  धर्मेंद्र राठौड़ ने यह भी बताया कि राजस्थान में अंतरराष्ट्रीय मैच उनकी पहली प्राथमिकता है जयपुर के साथ-साथ जोधपुर में बीएफ आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय मैच देखने को मिलेंगे.