close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तबादले के खिलाफ धरने पर बैठा इंजीनियर, धरना स्‍थल पर हुई हल्‍दी, अब वहीं करेगा शादी

धरनास्थल पर ही गुरुवार (18 जुलाई) को सुबह हल्दी की रस्में पूरी की गई. अब शादी भी यहीं पर की जाएगी. शादी का कार्ड भी एक अलग अंदाज में छपाया गया है.

तबादले के खिलाफ धरने पर बैठा इंजीनियर, धरना स्‍थल पर हुई हल्‍दी, अब वहीं करेगा शादी

अमर काणे, अमरावती: महाराष्ट्र के अमरावती में एक शादी चर्चा का विषय बनी हुई है. अपने तबादले के विरोध में धरने पर बैठे एक इंजीनियर की हल्‍दी की रस्‍म धरना स्‍थल पर की गई. अब शुक्रवार को उसकी शादी भी उसी जगह पर की जाएगी. ये धरना 9 जुलाई से जारी है.

शुक्रवार (19) जुलाई को दूल्हे कि शादी होनी है. लेकिन दूल्हा धरने पर बैठा हुआ है. दरअसल अमरावती के एक इंजीनियर निखिल तिखे अवैध तबादले के खिलाफ धरने पर बैठा था. शादी की तारीख 19 जुलाई तय की गई थी इंजीनियर धरना खत्म करने के मूड में नहीं है. तबादले के खिलाफ धरने पर बैठे सरकारी बिजली इंजीनियर की मांगों को लेकर विभाग अभी भी सख्त बना हुआ है, लेकिन उसके दृढ़ निश्चय से ससुराल वाले टेंशन में आ गए थे. दुल्हन पूजा लंगडे का परिवार भी हल्दी की रस्में और शादी इसी धरनास्थल पर करने को राजी हो गया.

ऐसे में धरनास्थल पर ही गुरुवार (18 जुलाई) को सुबह हल्दी की रस्में पूरी की गई. अब शादी भी यहीं पर की जाएगी. वहीं इंजीनियर निखिल के परिवार वाले बिजली विभाग से नाराज दिखे. अब शुक्रवार को होने वाली इस शादी के लिए बिजली विभाग के धरने पर बैठे कर्मचारियों ने अलग ही शादी का कार्ड बनाया है. शादी के कार्ड में लिखा गया है, मुख्य अभियंता, डिप्टी जनरल मैनेजर और जोन कार्यालय के आशीर्वाद से यह शादी समारोह संपन्न होगा.

धरने पर बैठे दूल्हा इंजीनियर निखिल तिखे ने बताया कि अमरावती बिजली विभाग मे 97 पद रिक्त होने के बावजूद हमारा तबादला शहर के बाहर किया जा रहा है, जिसका हम विरोध करते हैं. जब तक हमारी मांगों पर कोई फैसला नहीं होता हम अपना आंदोलन जारी रखेंगे. आज हल्दी की रस्‍म की गई है. शुक्रवार सुबह शादी भी इसी पंडाल मे की जाएगी.

दुल्हे के मामा राजेंद्र गोहत्रे का कहना है कि पिछले 9 दिन से ये लोग अनशन पर बैठे हैं, लेकिन प्रशासन द्वारा कोई ध्यान नही दिया जा रहा है. घर में खुशियों का माहोल होते हुए हम यहां अपनी शादी की रस्‍में निभा रहे हैं. प्रशासन द्वारा तबादलों में की गई धांधली इस सब के लिए जिम्मेदार हैं.