close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विधानसभा चुनाव: पराग शाह महाराष्ट्र में सबसे अमीर उम्मीदवार, संपत्ति जानकर रह जाएंगे हैरान

BJP कैंडिडेट पराग शाह के पास 2 करोड़ 60 लाख से ज्यादा के बेशकीमती गहने हैं.

विधानसभा चुनाव: पराग शाह महाराष्ट्र में सबसे अमीर उम्मीदवार, संपत्ति जानकर रह जाएंगे हैरान
6 बार के विधायक रहे प्रकाश मेहता को हटाकर शाह को इस सीट से टिकट दिया गया है.

मुंबई: महाराष्ट्र में चुनावी बिगुल बजने के साथ ही नेता अपने चुनावी क्षेत्र से मैदान में उतर चुके हैं और फतह करने की कोशिश में लगे हैं. मुंबई की घाटकोपर ईस्ट की सीट पर पुरे महाराष्ट्र की नजर है. यहां बीजेपी के टिकट पर राज्य के सबसे अमीर उम्मीद्वार पराग शाह चुनाव लड़ रहे हैं. 6 बार के विधायक रहे प्रकाश मेहता को हटाकर शाह को इस सीट से टिकट दिया गया है.

शाह ने अपने शपथ पत्र में बीजेपी उम्मीदवार पराग शाह ने 500 करोड़ की चल-अचल संपत्ति का ऐलान किया है. इसमें 422 करोड़ की चल और 78 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति शामिल है. तकरीबन 2 करोड़ 60 लाख से ज्यादा के बेशकीमती गहने हैं. पराग शाह की पत्नी के नाम 2 करोड़ 47 लाख की कारें हैं.

मुंबई के घाटकोपर इलाके की दो विधानसभा सीटों पर भारतीय जनता पार्टी का कब्जा है. इस बार घाटकोपर पूर्व विधानसभा सीट दो वजहों से चर्चा में है- पहली वजह है इस विधानसभा सीट से करीब 6 बार विधायक रहे प्रकाश मेहता का टिकट कट जाना. दरअसल, मेहता पिछले 30 सालों से भारतीय जनता पार्टी को इस विधानसभा सीट से रिप्रेजेंट कर रहे थे. साथ ही दो बार वो मंत्री भी रह चुके थे, लेकिन इस बार उनकी टिकट को काट के बीजेपी ने इस क्षेत्र के ही नगरसेवक पराग शाह को टिकट दिया है. दूसरी जो सबसे चर्चित बात है वो ये की पराग शाह महारष्ट्र के सबसे अमीर उम्मीदवार भी हैं. अपने चुनावी एफिडेविट में पराग शाह ने अपनी 500 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति दिखाई है. देखें- LIVE TV

बीजेपी उम्मीदवार पराग शाह पेशे से बिल्डर हैं. 2017 में पहली बार बीजेपी में शामिल होकर उन्होंने कॉरपोरेशन का चुनाव लड़ा था और उसमें जीत हासिल की थी. कॉरपोरेशन चुनाव के बाद पराग शाह की लोकप्रियता काफी बढ़ी जिसकी वजह से बीजेपी के इंटरनल सर्वे के बाद घाटकोपर पूर्व विधानसभा सीट से प्रकाश मेहता का टिकट काटकर पराग शाह को मौका दिया गया है.

दरअसल, इसके पीछे एक बड़ी वजह भी है कि प्रकाश मेहता के ऊपर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं. इसी आरोप के चलते प्रकाश मेहता को अपना मंत्री पद भी गंवाना पड़ा था. नामांकन के आखिरी दिन पराग शाह के टिकट की घोषणा की थी, जिसके बाद बीजेपी उम्मीदवार शाह निवर्तमान विधायक प्रकाश मेहता से मिलने गए थे जहां पर मेहता के समर्थकों ने पराग शाह के ऊपर अटैक कर दिया और उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इसमें शाह के बॉडीगार्ड घायल हुए उनकी गाड़ी भी टूट गई.

इन्हीं कई वजहों के चलते घाटकोपर पूर्व विधानसभा का चुनाव इस बार रोचक हो गया है. पराग शाह के सामने वंचित बहुजन आघाडी से विकास पवार चुनाव लड़ रहे हैं. इनका कहना है कि विधायक बनने के लिए अमीर उम्मद्वार पुरे तरीके से धनबल का उपयोग कर रहे हैं.

इस आरोपों से बेपरवाह पराग का कहना है कि चुनावी मौसम में इस तरीके के आरोप लगना आम बात है. शाह के मुताबिक उनके सामने विपक्ष है ही नहीं और उनकी जीत पक्की है. इस बार वे अकेले विधायक नहीं बल्कि घाटकोपर की पूरी जनता विधायक बनेगी. साथ ही पराग ने नाराज प्रकाश मेहता को भी मना लिया है.

वोटों का समीकरण

कुल वोटर- 234621
पुरुष- 123781
महिला- 110840
मराठी- 40%
गुजराती- 25%
नार्थ इंडियन- 7%
मुस्लिम- 12 %
अन्य- 14 प्रतिशत है