close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अलवर फिर से हुआ शर्मसार, 2 नाबालिग लड़कियों के साथ हुई हैवानियत

यहां बुधवार 10 अक्टूबर के दिन मासूम बाच्चियों के लिए अभिशाप बन कर आया.

अलवर फिर से हुआ शर्मसार, 2 नाबालिग लड़कियों के साथ हुई हैवानियत
पुलिस पीड़िता का मेडिकल करा कर आगे की कार्रवाई कर रही है.

अलवर: अलवर(Alwar) में लगातार बढ़ रही दुष्कर्म की घटनाओं (Cases Of Rape) ने एक बार फिर जिले को शर्मसार किया है. यहां बुधवार 10 अक्टूबर के दिन मासूम बाच्चियों के लिए अभिशाप बन कर सामने आया. नाबालिग के साथ रेप के पहले मामले में जागरण से बहला फुसलाकर 7 साल की बच्ची से रात तीन बजे सड़क पर दुष्कर्म किये जाने का सीसीटीवी फुटेज (CCTV Footage) सामने आया. 

वहीं, दूसरे मामले में 8 साल की बच्ची को उसके पिता समान सौतेले पिता (Step Father) ने हैवानियत कर डाली. जिसकी हालत गंभीर होने पर अलवर के महिला अस्पताल में भर्ती कराया है.

आपको बता दें कि अलवर में 5 और 6 अक्टूबर की रात्रि एनईबी थानांतर्गत दाउदपुर कॉलोनी में रात करीब 3 बजे जब जागरण चल रहा था. उस वक्त भी एक दरिंदा 7 साल की बच्ची को जागरण से बहला फुसलाकर ले गया और घटना को अंजाम दिया. लेकिन पांच दिन बीत जाने के बाद भी इस घटना की भनक न तो पुलिस को लगी न किसी अन्य को. इस मामले का खुलासा 10 अक्टूबर को तब हुआ जब दाउदपुर निवासी चिराग अपने घर के बाहर लगे सीसीटीवी की फुटेज चेक कर रहा था. जिसके बाद पुलिस को इसकी जानकारी दी गई.

पुलिस ने वीडियो के आधार पर गौरव(22) उर्फ भानु पुत्र रणधीर हरिजन निवासी हरिजन बस्ती को 60 फिट रोड से गिरफ्तार किया. इस दौरान पुलिस ने बताया कि अभी तक परिजनों को भी इस हादसे की जानकारी नहीं थी. परिजनों ने महिला थाने में मामला दर्ज कराया है. पुलिस पीड़िता का मेडिकल करा कर आगे की कार्यवाही कर रही है.

देर शाम अभी इस मामले में पुलिस ने कार्यवाही पूरी की भी नहीं की थी. इसी दौरान अलवर के एमआईए थाना अंतर्गत लोहिया का तिबारा के पास एक 8 साल की बच्ची से दुष्कर्म किया गया. इस मामले में पीड़ित बालिका की मां ने राविन्द गुर्जर(32) के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

रिपोर्ट में पीड़िता की मां ने बताया है कि वह एक फैक्ट्री में काम करती है. जिस कारण उसकी बेटी घर पर अकेली थी. जब वह काम से साम को लौटी तो उसकी बेटी लहूलुहान पड़ी मिली. इस दौरान आरोपी भी घर पर मौजूद था. इस दौरान आरोपी से पूछताछ की. जिसपर आरोपी ने कोई जवाब नहीं दिया. जिसके बाद पीड़िता की मां ने पुलिस को इसकी जानकारी दी.

पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है. पीड़िता की हालत फिलहाल स्थिर बताई जा रही है. पीड़िता का इलाज अलवर के महिला अस्पताल में चल रहा है.