close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: रविंद्र हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, 6 आरोपियों को किया गिरफ्तार

परिजनों ने राकेश वर्मा उर्फ भाया और पीयूष वर्मा पर शक जाहिर किया था. जिसके बाद पुलिस दोनों बदमाशों को पकड़कर थाने लाई.

राजस्थान: रविंद्र हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, 6 आरोपियों को किया गिरफ्तार

के.के.शर्मा, कोटा: राजस्थान के कोटा में रविंद्र हत्याकांड का पुलिस ने हैरान करने वाला खुलासा किया है. पुलिस ने इस मामले में 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. कोटा एसपी दीपक भार्गव ने बताया कि 4 अक्टूबर को रविंद्र अपने घर से लापता हुए था. परिजनों ने रविंद्र की गुमशुदगी को लेकर 5 अक्टूबर को गुमानपुरा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. 

परिजनों ने राकेश वर्मा उर्फ भाया और पीयूष वर्मा पर शक जाहिर किया था. जिसके बाद पुलिस दोनों बदमाशों को पकड़कर थाने लाई. कड़ाई से पूछताछ करने पर दोनों आरोपी ने पुलिस के सामने हत्या की कहानी का पूरा राज उगल दिया. आरोपी राकेश वर्मा और पीयूष वर्मा ने मृतक रविंद्र से ब्याज पर पैसे उधार लिए थे. पैसे को लेकर रविंद्र दोनों से बार-बार तकादा कर रहा था.

तकादे से परेशान होकर आरोपी राकेश वर्मा और पीयूष वर्मा ने रविंद्र को रास्ते से हटाने का खौफनाक प्लान बनाया. इस प्लान में दोनों आरोपियों ने अपने 4 अन्य साथियों दिलीप सिंह, रवि उर्फ फूट्या, आकाश वर्मा, और जयनारायण उर्फ टिल्लू को भी साथ ले लिया. 

आरोपियों ने तड़पा-तड़पा कर दी मौत 
आरोपियों ने रविंद्र को घर से बाहर बुलवाया फिर अपने साथ बाइक पर बैठा कर नांता इलाके में ले जाकर उसकी नृशंस हत्या कर दी. हत्या की घटना इतनी सुनियोजित थी कि राकेश अपने साथ पहले से ही लाल मिर्ची लाया था, पहले उसने रविंद्र की आंखों में डाल दी थी. रविंद्र बेसुध होकर लड़खड़ाने लगा तभी सभी ने मिलकर पहले तो चाकुओं से गोदा और उसके बाद लोहे की पाइपों से पीट पीटकर रविंद्र की नृशंस हत्या कर दी. हत्या के बाद शव नहर के किनारे फेंक दिया. मरने से पहले रविंद्र को लोहे की पाइप से बुरी तरह पीटा गया. जिससे उसके गर्दन की हड्डियां बुरी तरह टूटी गई थी. पुलिस हत्या के सभी आरोपियों को जेल भेज चुकी है.