close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जैसलमेर में शुरू हुआ ज्योतिष विज्ञान का महाकुंभ, चंडूजी पद्धति पर होगी चर्चा

सरहदी जिले जैसलमेर(Jaisalmer) में शु्क्रवार से ज्योतिष विज्ञान(Astrology Science) का महाकुंभ शुरू हो गया है.

जैसलमेर में शुरू हुआ ज्योतिष विज्ञान का महाकुंभ, चंडूजी पद्धति पर होगी चर्चा
चंडू जी की जन्म स्थली राजस्थान है. (प्रतीकात्मक फोटो)

मनीष रामदेव, जैसलमेर: सरहदी जिले जैसलमेर(Jaisalmer) में शु्क्रवार से ज्योतिष विज्ञान(Astrology Science) का महाकुंभ शुरू हो गया है. जोधपुर(Jodhpur) की निजी संस्था ने इसका आयोजन किया है. इस ज्योतिष सम्मेलन में भाग लेने के लिये देश के विभिन्न हिस्सों के साथ साथ विदेशों से भी कई ज्योतिषाचार्य जैसलमेर पहुंचे हैं. 

ज्योतिष विज्ञान को लेकर विभिन्न धारणाओं और विभिन्न पद्धतियों को लेकर इस सेमिनार में विमर्श होगा. इस दौरान मंथन के साथ ज्योतिष को लेकर आमजन में फैल रही भ्रांतियों को दूर करते हुए आमजन को इसकी जानकारी दी जायेगी.

प्रसिद्ध चंडूजी पद्धति पर होगी चर्चा
ज्योतिष के क्षेत्र में प्रसिद्ध चंडूजी पद्धति को लेकर भी इस महासम्मेलन में चर्चा की जायेगी. सेमीनार में हिस्सा लेने के लिये पहुंचे आयोजक पंडित एस. के. जोशी का कहना है कि चंडू जी की जन्म स्थली राजस्थान है. ऐसे में राजस्थान के जैसलमेर को इस सम्मेलन के लिये चुना गया है. 

ज्योतिषाचार्य डॉ मोनिका कलर का कहना है कि चंडू जी के पंचाग से लेकर उनकी गणनाओं और उनकी पद्धति ज्योतिष विज्ञान के क्षेत्र में सर्वमान्य है. ऐसे में उस पर चर्चा के साथ साथ और अधिक शोध कर दुनियाभर के लोगों के बीच उस जानकारी को ले जाने को लेकर भी चर्चा इस सेमीनार में की जायेगी. 

मिलेगी निशुल्क ज्योतिष सलाह
आयोजकों का कहना है कि जैसलमेर में हो रहे इस आयोजन के दौरान यहां के स्थानीय लोगों को भी दुनिया भर के ज्योतिष विज्ञानियों से निशुल्क सलाह भी दी जायेगी. जिसमें हस्तरेखा, अंकगणित, टैरो, वास्तुषास्त्र सहित विभिन्न विषयों पर जिज्ञासा रखने वाले लोगों को इसका लाभ मिल सकेगा.