शिवसेना के विधायकों को 17 नवंबर से एक साथ रखा जाएगा : सूत्र

सूत्रों की मानें तो शिवसेना की ऐसी योजना है कि 17 से 20 नवबंर के दौरान महाराष्ट्र में सरकार गठन की संभावनाओं को देखते हुए शिवसेना ने सभी विधायकों को एक साथ रखने की योजना बनाई है.

शिवसेना के विधायकों को 17 नवंबर से एक साथ रखा जाएगा : सूत्र
@ShivSena

मुंबई: महाराष्ट्र में जारी सियासी रस्साकशी के बीच लगाए गए राष्ट्रपति शासन के बाद भी राजनीतिक दलों को अपने विधायकों को लेकर डर सता रहा है. खबर है कि शिवसेना के सभी विधायकों को 17 नवंबर तक एक साथ रखा जाएगा. बता दें कि 17 नवंबर शिवसेना के संस्थापक बाला साहब ठाकरे का स्मृति दिवस है. पार्टी ने विधायकों को आदेश दिया है कि इस दिन (17 नवंबर) मुंबई आते वक्त कुछ दिन रहने की तैयारी में आए. ऐसा बताया जा रहा है कि विधायकों को मुंबई के बाहर किसी होटल में रखा जाएगा. 

सूत्रों की मानें तो शिवसेना की ऐसी योजना है कि 17 से 20 नवबंर के दौरान महाराष्ट्र में सरकार गठन की संभावनाओं को देखते हुए शिवसेना ने सभी विधायकों को एक साथ रखने की योजना बनाई है.

इससे पहले 7 नवंबर को शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने अपने सभी विधायकों के साथ अपने निवास स्थान मातोश्री में बैठक की थी, जिसके बाद उन्हें मुंबई के रंगशारदा होटल में ठहराया गया था. 8 नवंबर को दोपहर में अचानक से बस भेजकर शिवसेना (Shiv Sena) ने अपने सभी विधायकों को मुंबई के मढ (Madh) में शिफ्ट कर दिया है.

पार्टी की ओर से कहा गया कि रंगशारदा में जगह की कमी हो रही थी, इसलिए विधायकों को दूसरी जगह शिफ्ट किया गया है. यहां आपको बता दें कि रंगशारदा मातोश्री के नजदीक ही स्थित है.