सीकर: राकेश सैनी को है सांपों से प्यार, यूट्यूब से सीखा सांप पकड़ने का तरीका

राकेश ने सांपों को बचाने की ठान ली और सांपों को पकड़कर जंगल में छोड़ने की ठान ली. इसके साथ ही राकेश टीवी और यूट्यूब पर सांपों के पकड़ने वाले वीडियो देखने लगा और धीरे-धीरे राकेश ने सांपों को पकड़ने के गुर सीख लिए.

सीकर: राकेश सैनी को है सांपों से प्यार, यूट्यूब से सीखा सांप पकड़ने का तरीका
राकेश द्वारा सांपों को पकड़ने से सांपों की प्रजाति को संरक्षण मिल रहा है.

अशोक शेखावत, सीकर: जहरीले जानवरों को देखकर आपकी रूह फाख्ता हो जाती होगी. खासकर सांप सामने आ जाने से तो सांसे ठहर जाती हैं और जब कोबरा या अजगर सामने आ जाए तो क्या होगा. कहना मुश्किल है. लेकिन सीकर के सांवली में एक शख्स ऐसा है. जो खतरनाक जहरीले सांप को पकड़कर जंगलों में छोड़ता है. 

मोटर मैकेनिक का काम करने वाले राकेश सैनी की जिन्दगी चार साल पहले एक नजारे ने बदली. दरअसल, कुछ लोग एक सांप को बेरहमी से मार रहे थे. उस दिन से राकेश ने सांपों को बचाने की ठान ली और सांपों को पकड़कर जंगल में छोड़ने की ठान ली. इसके साथ ही राकेश टीवी और यूट्यूब पर सांपों के पकड़ने वाले वीडियो देखने लगा और धीरे-धीरे राकेश ने सांपों को पकड़ने के गुर सीख लिए. 

अब राकेश जहरीले कोबरा, रसल वाइपर जैसे सांपो को निशुल्क पकड़ते हैं और फिर उन्हें जंगलों में छोड़ आते हैं. राकेश ने सांप की सूचना के लिए वाट्सअप ग्रुप भी बना रखा है. राकेश को सांप की सूचना मिलते ही वो मौके पर पंहुच जाता है और सांप को एक छोटे से पिंजरे में रखकर उसे जंगल में छोड़ देता है.

पलासिया के सरकारी स्कूल में सांप निकलते ही स्कूल स्टॉफ ने राकेश को सूचना दी और राकेश ने चुटकी में जहरीले सांप को काबू में कर लिया और जंगल में छोड़ दिया. राकेश को इस काम के लिए सब सलाम करते हैं. खतरों के खेल खेलने वाले राकेश सांपों को पकड़ने से सांपों की प्रजाति को संरक्षण मिल रहा है. साथ ही राकेश वन्य जीव संरक्षण का संदेश भी दे रहे हैं.