हैदराबाद: महिला डॉक्टर की हत्या से पहले सामूहिक दुष्कर्म का संदेह, दो संदिग्ध हिरासत में

सूत्रों की मानें तो महिला डॉक्टर की हत्या से पहले उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म भी हुआ. इसके बाद आरोपियों ने गला दबाकर उसकी हत्या कर दी.

हैदराबाद: महिला डॉक्टर की हत्या से पहले सामूहिक दुष्कर्म का संदेह, दो संदिग्ध हिरासत में
इनसाइड फोटो में संदिग्ध मोहम्मद पाशा.

हैदराबाद: हैदराबाद में 22 वर्षीय महिला पशु चिकित्सक की हत्या के मामले में दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है. पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर शुक्रवार को एक लॉरी चालक मोहम्मद पाशा और एक क्लीनर को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि उन्होंने मामले से जुड़े सभी सबूत एकत्र कर लिए हैं. पुलिस सूत्रों की मानें तो महिला डॉक्टर की मौत दम घुटने के कारण हुई है. हालांकि आधिकारिक तौर पर पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है. 

सूत्रों की मानें तो महिला डॉक्टर की हत्या से पहले उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म भी हुआ. इसके बाद आरोपियों ने गला दबाकर उसकी हत्या कर दी. आरोपियों ने शव को दुपट्टे में लपेटकर उसपर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी. शव 70 फीसदि से ज्यादा झुलस गया था. 

क्या है पूरा मामला
तेलंगाना की राजधानी के निकट शादनगर कस्बे में बुधवार देरा अज्ञात व्यक्तियों ने एक पशुचिकित्सक युवती की हत्या आग लगाकर कर दी. उसका जला शव गुरुवार (28 नवंबर) को पाया गया. डॉक्टर झुलसा हुआ शव रंगा रेंड्डी जिले के शादनगर कस्बे के निकट चतनपल्ली पुल पर पाया गया.

डॉक्टर बुधवार को सुबद अपने घर से कोल्लूरू गांव में एक पशु चिकित्सालय में अपने ड्यूटी के लिए निकली थी. रात को घट लौटने के दौरान उसने अपनी बहन को कॉल कर कहा था कि उसका दोपहिया वाहन घर लौटने के दौरान खराब हो गया है. उसने ने अपनी बहन से कहा कि वह डरी हुई है. जब उसके परिवार ने बाद में उससे संपर्क करने की कोशिश की तो उसका मोबाइल फोन बंद पाया गया.

गुरुवार सुबह महिला का झुलसा हुआ शव पुल के पास पाया गया है. मृतक महिला डॉक्टर के पिता ने शव की पहचान की थी. मामले की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी. पुलिस ने सुराग के लिए पास के टोल गेट के सीसीटीवी फुटेज भी इकट्ठा किए. 

इनपुट- रामन्ना डे