close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ट्रांसफार्मर देख खुशी से झूम उठे ग्रामीण, ढोल-नगाड़े बजाते हुए कंधों पर उठाकर पहुंचे गांव

 यह अलग सा दिखने वाला दिलकश नजारा चम्बा जिले के अंतर्गत पड़ने वाली डलहौज़ी विधानसभा क्षेत्र के गांव भडेला पंचायत के गांव भंद्रोटा का है. 

ट्रांसफार्मर देख खुशी से झूम उठे ग्रामीण, ढोल-नगाड़े बजाते हुए कंधों पर उठाकर पहुंचे गांव
इस गांव के ग्रामीण पिछले कई वर्षों से सड़क सुविधा से तो परेशान थे ही. वहीं, पूरा साल बिजली की आंख मिचौली और दिये जैसी रोशनी से बेहद परेशान थे.

शिव शर्मा/चंबा: शादी या किसी अन्य खुशी के मौके पर अक्सर ढोल और बैंड-बाजा बजाया जाता है. वहीं, एक गांव जिसमें न तो कोई शादी है और न ही कोई और खुशी का मौका, फिर भी ग्रामीणों ने बैंड-बाजे बजाते हुए अपनी खुशी का इजहार किया. जी हां, यह बिलकुल सच है. दरअसल, वर्षों से बिजली की मार झेल रहे ग्रामीणों को पता चला कि उनके गांव में एक बड़ा बिजली का ट्रांसफार्मर आ पहुंचा है. ऐसे में सैकड़ो की संख्या में ग्रामीण बैंड-बाजे के साथ नया ट्रांसफार्मर लेने जा पहुंचे. इसके बाद ग्रामीणों ने पहाड़ जैसे दिखने वाले ट्रांसफार्मर को कंधे पर उठाया और बैंडबाजे की धुन के साथ उसे गांव में पहुंचा दिया.

दरअसल, यह अलग सा दिखने वाला दिलकश नजारा चम्बा जिले के अंतर्गत पड़ने वाली डलहौज़ी विधानसभा क्षेत्र के गांव भडेला पंचायत के गांव भंद्रोटा का है. इस गांव के ग्रामीण पिछले कई वर्षों से सड़क सुविधा से तो परेशान थे ही. वहीं, पूरा साल बिजली की आंख मिचौली और दिये जैसी रोशनी से बेहद परेशान थे. अब इन ग्रामीणों की इच्छा पूरी हो गई है. गांव भंद्रोटा के दर्जनों ग्रामीण ढोल नगाड़े लेकर ऐसे निकल पड़े कि मानो किसी दूल्हे की बारात जा रही हो. हालांकि, वे सभी बिजली के इस ट्रांसफार्मर को अपने गांव तक पहुंचने के लिए ऐसा कर रहे थे.