close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उदयपुर: लन्दन में नया कीर्तिमान बनाकर युवा तैराक गौरवी सिंघवी पहुंची लेकसिटी, कहा...

गौरवी ने गत 29 अगस्त को लन्दन में इंग्लिश चैनल पार करके नया कीर्तिमान रचा था. 16 साल की गौरवी इस वर्ष इंग्लिश चैनल पार करने वाली दुनिया की सबसे युवा तैराक बन गई है. 

उदयपुर: लन्दन में नया कीर्तिमान बनाकर युवा तैराक गौरवी सिंघवी पहुंची लेकसिटी, कहा...
गौरवी ने 38 समुद्री मील की दूरी 13 घंटे 26 मिनट में पूरा किया.

अविनाश जगनावत/उदयपुर: पिछले महीने लंदन में 17 डिग्री तापमान के बीच इंग्लिश चैनल पार करने वाली इस साल की सबसे युवा तैराक गौरवी सिंघवी बुधवार दोपहर लेकसिटी पहुंची. गौरवी ने कहा कि उसकी मंजिल करीब थी और ठंडे पानी में शरीर अकड़ रहा था, लेकिन उसके साथ लेकसिटी सहित देशवासियों की उम्मीदें थी. ऐसे में उसके मन में एक ही ध्येय था, लक्ष्य को पाना और आखिर उसने वह अर्जित कर लिया.

कक्षा 11 में अध्ययनरत गौरवी का कहना है कि लंदन में वह इस चैनल को पार करने की तैयारियों के लिए 11 जुलाई को ही पहुंच गई थी. उदयपुर में वह फतहसागर में रोज तीन घंटे तैराकी करती थी लेकिन लंदन की आबोहवा उदयपुर से अलग है. ऐसे में शुरूआती दिनों में उसे तैराकी की प्रेक्टिस करने में थोड़ी परेशानी हुई, लेकिन बाद में सबकुछ सामान्य हो गया. हालांकि उसे तैराकी के दौरान कार्बोहाइड्रो पाउडर मिला पानी पीने को दिया जाता था. इसके सेवन से उसे पेटदर्द की समस्या हुई तो गर्म पेय देकर निजात पाई गई. 

 

ठंड से बचने को बढ़ाया 10 किलो वजन
गौरवी का कहना है कि सामान्यत: छरहरे बदन वालों को ठंड ज्यादा लगती है. इससे बचने के लिए वजन दस किलो बढ़ाया. जब उसने चैनल को पार करने के लिए तैराकी शुरू की. इस दौरान खास हिदायत थी कि वह मार्ग में किसी वस्तु को नहीं छुए. उसे सिर्फ पानी और खाने को एक केला दिया गया. वह इस चैनल को पार करने के लिए गत दो साल से तैयारी कर रही थी और गत दो माह से तो स्कूल ही छूट गया था. अब वापस आई है तो पहले पढ़ाई शुरू करेगी. इसके बाद नए लक्ष्य की तैयारी. एक सवाल के जवाब में गौरवी ने कहा, वह चाहती है कि अबकी बार ट्रिपल क्राउन का लक्ष्य पूरा करे. इसका सफर करीब 40 किलोमीटर है.

डबोक हवाईअड्डे पर स्वागत  
इससे पहले दोपहर करीब डेढ़ बजे डबोक स्थित महाराणा प्रताप हवाई अड्डे पहुंचने पर गौरवी का खेल प्रेमियों, शुभचिंतकों और शहरवासियों ने स्वागत किया. बाद में गौरवी खेलगांव पहुंची. इस दौरान उसके परिजन, खेल अधिकारी ललितसिंह झाला, तैराकी कोच महेश पालीवाल आदि मौजूद थे. बता दें, गौरवी ने गत 29 अगस्त को लन्दन में इंग्लिश चैनल पार करके नया कीर्तिमान रचा था. 16 साल की गौरवी इस वर्ष इंग्लिश चैनल पार करने वाली दुनिया की सबसे युवा तैराक बन गई है. उसने 38 समुद्री मील की दूरी 13 घंटे 26 मिनट में पूरी की और देश का नाम रौशन किया.