नोएडा: जाली क्रेडिट कार्ड से 10 करोड़ की ठगी के मामले में 3 गिरफ्तार

पुलिस ने उनके पास से कई जाली क्रेडिट कार्डों सहित दूसरी चीजें बरामद करने में सफलता हासिल की.

नोएडा: जाली क्रेडिट कार्ड से 10 करोड़ की ठगी के मामले में 3 गिरफ्तार
क्रेडिट कार्ड बनवाकर करते थे ठगी. फाइल फोटो

नोएडा(उप्र) : पश्चिमी यूपी एसटीएफ ने फर्जी कागजात के आधार पर विभिन्न बैंकों के क्रेडिट कार्ड बनवाकर 10 करोड़ रुपये से ज्यादा की ठगी करने वाले एक गिरोह के तीन लोगों को रविवार को गिरफ्तार करके उनके पास कई जाली क्रेडिट कार्डों सहित दूसरी चीजें बरामद करने में सफलता हासिल की.

 

एसटीएफ एसपी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि एक सूचना के आधार पर पुलिस उपाधीक्षक राजकुमार मिश्रा व उनकी टीम ने थाना सेक्टर 24 क्षेत्र से भूपेंद्र, तीरथ ओर चंद्रप्रकाश को पकड़ा. ये तीनों दिल्ली के निवासी है.

पुलिस ने इनके पास से विभिन्न बैंकों के 36 क्रेडिट कार्ड व डेबिट कार्ड, आठ आधार कार्ड, सात बैंक पासबुक, आठ मोबाइल फोन, विभिन्न बैंकों से क्रेडिट कार्ड जारी कराने के लिए भरे हुये ओरिजिनल फॉर्म, सिटीबैंक के आठ क्रेडिट कार्ड, विभिन्न बैंकों द्वारा जारी 16 क्रेडिट कार्डों की फोटो कॉपी, एक लैपटॉप और दूसरी चीजें बरामद की हैं.

बीते तीन सालों से सक्रिय इस गिरोह के लोगों ने जाली दस्तावेज के आधार पर विभिन्न बैंकों से एक हजार से ज्यादा डेबिट व क्रेडिट कार्ड बनवाए तथा उसके जरिए 10 करोड़ रूपये से ज्यादा की ठगी की.

उन्होंने बताया कि भूपेंद्र कई मोबाइल कंपनियों और बैंकों के लिए काम कर चुका है. उसका मुख्य काम ग्राहक से कागजात लाना होता था. उसी समय यह ग्राहकों के कागजात का दुरुपयोग करके क्रेडिट कार्ड बनवा लेता था. दूसरा आरोपी तीरथ दिल्ली में स्थित टीवीएस मोटरसाइकिल के शोरूम में सेल्स मैनेजर के पद पर काम करता है. वह केवाईसी से संबंधित कागजात इस गिरोह को मुहैया कराता था जबकि तीसरा बदमाश चंद्रप्रकाश बैंकों के लिए काम करने वाली एक कंपनी में काम करता था. यह आरोपी बैंकों के जारी क्रेडिट और डेबिट कार्ड ग्राहकों तक पहुंचाता था.