'नेस्तनाबूद' हुआ अतीक का 300 करोड़ का अवैध साम्राज्य, इस सफाई का हर्जाना भी भरेगा

प्रयागराज विकास प्राधिकरण अतीक और उसके करीबियों के अवैध साम्राज्य को ध्वस्त करने में आए खर्च का लेखा-जोखा तैयार कर रहा है. इस धनराशि को अब अतीक अहमद से ही वसूला जाएगा.

'नेस्तनाबूद' हुआ अतीक का 300 करोड़ का अवैध साम्राज्य, इस सफाई का हर्जाना भी भरेगा
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, माफिया अतीक अहमद (R).

प्रयागराज: योगी सरकार के ''ऑपरेशन नेस्तनाबूद'' के तहत राज्य के बड़े अपराधियों, बाहुबलियों और भू-माफिया के खिलाफ प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है. अपराधियों द्वारा अपने रसूख के दम पर बनाई गई संपत्तियों के साथ अवैध कब्जे वाली संपत्तियों को बुलडोजर लगाकर ढहाया जा रहा है, कुर्की और जब्ती की जा रही है. साथ ही कब्जा हटाने में हुए खर्च और सरकारी जमीन या प्रॉपर्टी पर अवैध कब्जे की समयावधि का हर्जाना भी माफिया से ही वसूला जा रहा है. ऐसे एक माफिया का नाम है अतीक अहमद जिसके खिलाफ प्रयागराज प्रशासन ताबड़तोड़ एक्शन ले रहा है.

इस बार और भव्य होगा अयोध्या का दीपोत्सव, योगी सरकार देगी पिछली बार से दोगुना बजट!

अतीक के अवैध साम्राज्य की सफाई का खर्चा उसी से वसूला जाएगा
फूलपुर के पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद से जुड़ी 300 करोड़ की अवैध और बेनामी संपत्तियों पर अब तक प्रशासन कार्रवाई कर चुका है. इसके अलावा अतीक अहमद के करीबियों पर भी शिकंजा कसते हुए उनकी अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चला है. पीडीए (प्रयागराज विकास प्राधिकरण) और जिला प्रशासन भारी पुलिस बल की मौजूदगी में पूरी कार्रवाई को अंजाम देती है. पीडीए अतीक और उसके करीबियों के अवैध साम्राज्य को ध्वस्त करने में आए खर्च का लेखा-जोखा तैयार कर रहा है. इस धनराशि को अब अतीक अहमद से ही वसूला जाएगा.

अतीक अहमद के खिलाफ कार्रवाई में करीब 25 लाख रुपए खर्च हुए
बीते एक महीने से बाहुबली अतीक अहमद, उसके गुर्गों और क​रीबियों के खिलाफ चल रही कार्रवाई में तकरीबन 100 दिहाड़ी मजदूरों को लगाया गया है. इस काम में 30 से ज्यादा जेसीबी मशीनों का इस्तेमाल हो रहा है. पीडीए के आला अधिकारी और पुलिस जवान इस काम में लगे हैं. इन सबमें सरकार का काफी पैसा खर्च हुआ है.

अब्दुल्ला आजम के चुनाव लड़ने पर लग सकता है 6 साल का बैन, राष्ट्रपति को लिखा गया पत्र

पीडीए के जोनल अधिकारी श्री सत शुक्ला बताया कि एक मजदूर पर तकरीबन 500 रुपए और एक जेसीबी मशीन पर 1 घंटे के हिसाब से 1000 रुपए का खर्च आता है. अतीक अहमद के खिलाफ हुई कुर्की, जब्ती की कार्रवाई पर कुल 25 लाख रुपए अनुमानित राशि खर्च हुई है. अब पूर्व सांसद से ही इस राशि की वसूली होगी.

WATCH LIVE TV