प्रशासन के रडार पर अतीक अहमद के करीबी, सरकारी जमीन कब्जाने के मामले में दर्ज हुआ केस

मामला धूमनगंज के उमरपुर नींवा इलाके का है जहां की सरकारी जमीन अतीक अहमद के गुर्गे बली पंडित के भाई ने फर्जी तरीके से हथिया ली. बता दें, बली पंडित की गिनती अतीक अहमद गैंग के एक्टिव मेंबर्स में होती है.

प्रशासन के रडार पर अतीक अहमद के करीबी, सरकारी जमीन कब्जाने के मामले में दर्ज हुआ केस

प्रयागराज: सीएम योगी के ‘माफिया मुक्त यूपी’ के फरमान को प्रशासन पूरी तरह से अमल में ला रहा है. यहीं वजह है कि मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद जैसे माफिया के गुनाहों का हिसाब किया जा रहा है. अब प्रशासन की पैनी नजर इन बाहुबलियों के करीबियों पर भी आ टिकी है.  अतीक अहमद के करीबी माने जाने वाले बली पंडित के भाई हिमांशु त्रिपाठी के खिलाफ धूमनगंज के थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है. हिमांशु त्रिपाठी पर सरकारी जमीन कब्जाने का आरोप है. साथ ही, यह भी आरोप है कि उसने कागजों में हेरफेर कर जमीन पर कब्जा पा लिया और फिर उसे बेच दिया. प्रयागराज डेवलपमेंट अथॉरिटी की जांच में यह मामला सामने आया है. इसके बाद ही पीडीए ने थाने में केस दर्ज कराया. 

ये भी पढ़ें: इन्हें खाने के बाद पानी पीने से होती हैं कई बीमारियां, हम सब करते हैं यह गलती 

धूमनगंज थाने का हिस्ट्रीशीटर है बली पंडित 
मामला धूमनगंज के उमरपुर नींवा इलाके का है जहां की सरकारी जमीन अतीक अहमद के गुर्गे बली पंडित के भाई ने फर्जी तरीके से हथिया ली. बता दें, बली पंडित की गिनती अतीक अहमद गैंग के एक्टिव मेंबर्स में होती है. वह धूमनगंज थाने के हिस्ट्रीशीटर की श्रेणी में आता है. हाल ही में प्रयागराज पुलिस ने बली पंडित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. 

ये भी पढ़ें: सीएम योगी ने पूरा किया अटल जी का ये सपना, लखनऊ को मिलेंगी बेहतर सुविधाएं 

अब तक अतीक की एक अरब की संपत्ति कुर्क 
बता दें कि प्रयागराज जिला प्रशासन और सरकार ने मिलकर अतीक अहमद की कई अवैध संपत्तियों को चिन्हित किया था, जिसमें उसके चुनावी दफ्तर और मकान सहित बाकी संपत्तियां गैंगस्टर एक्ट 14 (1) के तहत कुर्क की जा चुकी हैं. इन संपत्तियों की अनुमानित कीमत कम से कम एक अरब है. 

WATCH LIVE TV