close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

UP के वित्त मंत्री रहे राजेश अग्रवाल ने क्यों दिया इस्तीफा! प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया खुलासा

उन्होंने कहा कि जैसे ही मुझे जानकारी हुई कि कैबिनेट का विस्तार होने वाला है, वैसे ही मैंने अपना त्यागपत्र दे दिया. उन्होंने कहा न तो मुझसे किसी ने इस्तीफा देने को कहा और न ही किसी ने मुझसे इस्तीफा मांगा. 

UP के वित्त मंत्री रहे राजेश अग्रवाल ने क्यों दिया इस्तीफा! प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया खुलासा
बरेली पहुंचकर पूर्व वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने अपने आवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

बरेली: योगी कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद राजेश अग्रवाल पहली बार बरेली पहुंचे. बरेली पहुंचने के बाद योगी सरकार के पूर्व वित्त मंत्री  राजेश अग्रवाल ने पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस्तीफा देने पर सफाई दी. 

ये बताया कारण
यूपी के पूर्व वित्त मंत्री रहे राजेश अग्रवाल ने कहा कि बीजेपी की नीति है कि 75 साल की उम्र पूरी हो जाने पर सक्रिय राजनीती में नहीं रह सकते. उन्होंने कहा कि बीजेपी के इसी नीति के कारण मैंने इस्तीफा दिया है. उन्होंने ये साफ किया कि मैरे से इस्तीफा नहीं लिया गया है.  

मुझसे किसी ने नहीं मांगा इस्तीफा: राजेश अग्रवाल
कालीबाड़ी स्थित आवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए उन्होंने कहा कि जैसे ही मुझे जानकारी हुई कि कैबिनेट का विस्तार होने वाला है, वैसे ही मैंने अपना त्यागपत्र दे दिया. उन्होंने कहा न तो मुझसे किसी ने इस्तीफा देने को कहा और न ही किसी ने मुझसे इस्तीफा मांगा. 

लाइव टीवी देखें

मैंने खुशी-खुशी दिया इस्तीफा
उन्होंने कहा कि आज भी मेरे पास कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी है और मैं प्रदेश का कोषाध्यक्ष और कैंट विधानसभा का विधायक हूं. पूर्व वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि मैं दो बार कैबिनेट मंत्री रहा और मैंने बड़ी जिम्मेदारी भी संभाली और मैंने दुखी होकर नहीं खुशी-खुशी इस्तीफा दिया है और मैं खुश हूं. 

मंत्रिमंडल विस्तार से पहले दिया था इस्तीफा
आपको बता दें कि 75 साल के राजेश अग्रवाल बरेली से लगातार बीजेपी विधायक रहे हैं. उन्होंने हाल ही में योगी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है. उनकी गिनती पार्टी के कद्दावर नेताओं में शुमार है. उन्होंने 7 फरवरी को योगी सरकार का तीसरी बजट पेश किया था. उम्र सीमा और स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए उन्होंने इस्तीफा दिया था.