close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: BSP नेता का विवादित बयान, 'इन BJP वालों को दौड़ा-दौड़ा कर मारेंगे...'

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक बीएसपी नेता ने कहा, 'इन बीजेपी वालों को तो दौड़ा दौड़ा कर मारेंगे. घबराने की जरूरत नहीं है. आज इन्हें नानी याद आई होगी, मरी हुई नानी कि एसपी-बीएसपी एक हो गए.'

VIDEO: BSP नेता का विवादित बयान, 'इन BJP वालों को दौड़ा-दौड़ा कर मारेंगे...'
बीएसपी नेता विजय यादव ने बीजेपी नेताओं पर विवादित टिप्पणी की है.

मुरादाबाद: बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) नेता विजय यादव ने विवादित बयान दिया है. विजय यादव ने बीजेपी नेताओं के साथ मारपीट करने की बात कही है. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक बीएसपी नेता ने कहा, 'इन बीजेपी वालों को तो दौड़ा दौड़ा कर मारेंगे. घबराने की जरूरत नहीं है. आज इन्हें नानी याद आई होगी, मरी हुई नानी कि एसपी-बीएसपी एक हो गए.'

लोकसभा चुनाव के लिए बसपा—सपा गठबंधन का उत्साह मायावती के 63वें जन्मदिन पर मंगलवार को सोशल मीडिया पर डाले जा रहे पोस्टरों में दिखने लगा है, जिनमें उन्हें भावी प्रधानमंत्री के रूप में पेश किया गया है. बसपा नेता सुधीन्द्र भदौरिया ने एक पोस्टर ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने मायावती को जन्मदिन की बधाई दी है. साथ ही भदौरिया ने यह सुनिश्चित करने की भी अपील की है कि मायावती ही देश की अगली प्रधानमंत्री बनें.’ भदौरिया ने अपने ट्वीट में कहा कि उनका सपना है कि बसपा सुप्रीमो मायावती प्रधानमंत्री बनें.

मायावती ने अपने जन्मदिन के मौके पर कहा, 'हाल ही में 12 जनवरी को हमारी पार्टी ने समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन करके लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है. इससे भाजपा की नींद उड़ी हुई है. देश का सबसे बड़ा राज्य होने के लिहाज से उत्तर प्रदेश काफी मायने रखता है. उत्तर प्रदेश ही तय करता है कि केंद्र में किसकी सरकार बनेगी और अगला प्रधानमंत्री कौन होगा.' 

इस मौके पर बसपा और सपा के लोगों से उन्होंने अपील की कि वे इस चुनाव में अपनी पार्टी और देशहित में पुराने गिले शिकवे और स्वार्थ की राजनीति को भुलाकर एक साथ काम करें तथा उत्तर प्रदेश एवं बाकी अन्य राज्यों में गठबंधन को वोट देकर जिताए और यही उनके लिए जन्मदिन का तोहफा होगा . 

सपा मुखिया अखिलेश यादव से जब शनिवार को सवाल किया गया था, कि क्या नये गठबंधन में प्रधानमंत्री का चेहरा मायावती होंगी, तो उन्होंने कहा, 'आपको पता है कि मेरी पसंद क्या है. उत्तर प्रदेश ने पूर्व में भी प्रधानमंत्री दिये हैं और यह आगे भी होगा.' उल्लेखनीय है कि शनिवार को अखिलेश और मायावती ने संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस की थी . इसमें मायावती ने ऐलान किया था कि आगामी लोकसभा चुनाव में सपा और बसपा 38-38 सीटों पर चुनाव लडेगी.

सपा बसपा गठबंधन अराजकता को देगा बढ़ावा : योगी
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि सपा-बसपा गठबंधन अराजकता और असुरक्षा को बढ़ावा देगा. गोरखनाथ मंदिर में बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाने के बाद संवाददाताओं से कहा कि ये गठबंधन भय वश किया गया है और जनता इसे स्वीकार नहीं करेगी. योगी ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘मुझे यकीन है कि यह गठबंधन लंबा नहीं चलेगा . 1993 में सपा की ज्यादा सीटें थीं, बसपा की कम और मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव थे. बसपा ने समर्थन जारी रखा लेकिन गठबंधन लंबा नहीं चला.’ उन्होंने कहा, ‘उत्तर प्रदेश की 23 करोड़ जनता इस गठबंधन को स्वीकार नहीं करेगी क्योंकि यह आत्म सम्मान को परे रखकर बनाया गया है.’ 

सपा बसपा के पूर्व मुख्यमंत्रियों को कुंभ में आमंत्रित करने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कुंभ सब के लिए है और हमने सभी को आमंत्रित किया है. उन्होंने कहा कि सपा और बसपा के लोग कुंभ समिति में हैं और यह उन पर है कि वह कुंभ मेले में आएं.