UP में हिंसा के पीछे पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का हो सकता है हाथ, डिप्टी सीएम का बयान
topStorieshindi

UP में हिंसा के पीछे पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का हो सकता है हाथ, डिप्टी सीएम का बयान

दिनेश शर्मा ने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से पूछना चाहता हूं कि CAA और NRC से दिक्कत क्या है ?

UP में हिंसा के पीछे पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का हो सकता है हाथ, डिप्टी सीएम का बयान

लखनऊ: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Bill) के खिलाफ उत्तर प्रदेश में हुए हिंसक बवाल के बाद रविवार को यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने बड़ा बयान देते हुए आशंका जताई कि सिमी का छोटा रूप पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (Popular Front of India) का हाथ यूपी में हुई हिंसा के पीछे हो सकता है.

 

पॉपुलर संगठन और लखनऊ जैसे शहर में मालदा के 6 लोग पकड़े गए. यूपी में बाहरी लोग आकर उपद्रव कर रहे हैं. सरकार का मत है कि मुस्लिम लोगों को कोई नुकसान नहीं होने दिया जाएगा. मुस्लिम वर्ग के प्रति जो कानून पहले था वही आज भी है.

दिनेश शर्मा ने बताया कि 75 जिलों में से 54 जिलों में कोई घटना नहीं हुई सिर्फ 21 जिलों में हिंसा हुई. 124 मुकदमे अब तक दर्ज किए गए हैं. प्रदेश भर में 15 लोगों की हिंसा के दौरान मौत हुई है. 

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर भी जमकर निशाना साधा. दिनेश शर्मा ने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से पूछना चाहता हूं कि CAA और NRC से दिक्कत क्या है ? डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने बताया कि संभल और कानपुर में सपा के विधायक, सांसद उपद्रवियों के साथ खड़े देखे गए.

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि ये कानून किसी से कुछ लेने वाला नहीं है. बल्कि देने वाला कानून है. सभी मुसलमानों से कहना चाहता हूं कि आप गुमराह न हों, यहां से किसी से कुछ छीनने वाला नहीं है.

वहीं उत्तर प्रदेश में हुए हिंसक प्रदर्शन को लेकर दिनेश शर्मा ने कहा कि किसी भी निर्दोष को परेशान नहीं किया जाएगा और किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा.

Trending news