close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ड्यूटी के दौरान महिला कर्मचारी ने छलकाए जाम, अधिशाषी अभियंता ने किया सस्पेंड, VIDEO VIRAL

वीडियो एक साल बाद वायरल हो रहा है. महिला का कहना है कि उस वीडियो में अकेले नहीं हूं. मेरे साथ और भी लोग हैं. तो मुझपर ही कार्रवाई क्यों हुई है?

ड्यूटी के दौरान महिला कर्मचारी ने छलकाए जाम, अधिशाषी अभियंता ने किया सस्पेंड, VIDEO VIRAL
वीडियो वायरल होने के बाद अधिकारी ने कार्रवाई की.

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर में सरकार के आधीन एक कॉपोरेशन की महिला कर्मचारी द्वारा सरकारी कार्यालय में पुरूष सहकर्मियों के साथ बैठकर शराब पीने का वीडियो वायरल हुआ है. इस वीडियो ने इतना हड़कम्प मचाया कि रजिया खान नाम की. कर्मचारी पर कार्रवाई करते हुए उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है. सरकारी ऑफिस में ये जाम ड्यूटी के दौरान छलकाये जा रहे थे. 

कानपुर में दक्षिणा चल विद्युत वितरण निगम का कार्यालय है. जानकारी के मुताबिक, एक शाम करीब 4 बजे निगम के मीटर परीक्षण विभाग में एक महिला कर्मचारी अपने दो पुरूष सहकर्मियों के साथ बैठकर जाम छलका रही है. किसी ने इस नजारे को अपने मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया और डिवीजन के आला अफसरों को फारवर्ड कर दिया.

निगम के चीफ एक्जीक्यूटिव इंजीनियर प्रशांत सिंह दो दिन पहले छुट्टियां बिताकर झांसी से कानपुर वापस लौट रहे थे. उन्होंने इस वीडियो को देखा तो उन्हें ये भांपते देर नहीं लगी कि ये वीडियो उनके डिवीजन के अंदर का ही है. उन्होंने तत्काल एक्शन लेते हुए महिला कर्मचारी रजिया को सस्पेंड कर दिया. 

रजिया अब अपनी गलती पर शर्मिन्दा हैं और इसे स्वीकार करते हुए बताती हैं कि ये घटना कोई एक साल पुरानी है, जिसे अब जानबूझकर सबके सामने लाया गया है. उसका ये सवाल भी लाजिमी है कि उसके साथ दो पुरूषकर्मी भी जाम छलका रहे थे तो कार्यवाही केवल उसके खिलाफ क्यों?

वीडियो एक साल बाद वायरल हो रहा है. रजिया का कहना है कि उस वीडियो में अकेले नहीं हूं. मेरे साथ और भी लोग हैं. तो मुझपर ही कार्रवाई क्यों हुई है? मुख्य अधिशाषी अभियांता प्रशांत सिंह ने बताया कि वीडियो मे स्पष्ट है कि शराब का सेवन किया जा रहा है. इसमें चपरासी रजिया को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. जो अन्य कर्मचारी हैं, वो ग्रामीण क्षेत्र के हैं उनके खिलाफ कार्यवाई के लिए एक्सियन को पत्र लिखा जा रहा है.