गाजियाबाद: एक राशन कार्ड, लेकिन सभी की जाति अलग-अलग, सामने आया बड़ा गड़बड़झाला

गाजियाबाद: एक राशन कार्ड, लेकिन सभी की जाति अलग-अलग, सामने आया बड़ा गड़बड़झाला

मामला तब सामने आया जब एक युवक अपनी बहन का राशन कार्ड बनवाने के लिए गया तो पता चला कि उसकी बहन का नाम पहले से ही गड़बड़ झाले वाले राशन कार्ड में चढ़ा हुआ था. पीड़ित ने इसके बाद शिकायत की.

गाजियाबाद: एक राशन कार्ड, लेकिन सभी की जाति अलग-अलग, सामने आया बड़ा गड़बड़झाला

गाजियाबाद: देश की राजधानी दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में आपूर्ति विभाग कार्यालय (Supply Department Office) की बड़ी लापरवाही सामने आई है. यहां पर पहले तो महकमे ने बिना जांच किए एक महिला के नाम राशन कार्ड जारी कर दिया और फिर उस कार्ड में 9 लोगों के नाम भी दर्ज कर दिए. 

मामला गाजियाबाद के मोदीनगर इलाके से सामने आया है. मामला उजागर होते ही विभागीय अफसरों में हड़कंप है. खास बात यह है कि परिवार के सभी सदस्यों के पिता के नाम भी अलग-अलग हैं. मोदीनगर की राशन दुकान संख्या पर लक्ष्मी नाम की महिला का पिछले दिनों राशन कार्ड जारी कर दिया गया था, जिसमें गड़बड़ सामने आई है. आरोप है कि महिला अपात्र होने के बावजूद राशन भी लगातार लेकर सरकार को अनुचित रूप से चूना लगाने का काम कर रही है.

मामला तब सामने आया जब एक युवक अपनी बहन का राशन कार्ड बनवाने के लिए गया तो पता चला कि उसकी बहन का नाम पहले से ही गड़बड़ झाले वाले राशन कार्ड में चढ़ा हुआ था. पीड़ित ने इसके बाद शिकायत की.

लाइव टीवी देखें

राशन कार्ड में दिया गया विवरण
1- लक्ष्मी पिता रूपचंद रूरकीवाल (धारक)
2- विरेंद्र कुमार पिता राजय लाल गोयल (बेटा)
3- राजकुमार पिता रामसिंह (देवर)
4- आजाद पिता मुस्तकीम (बेटा)
5- आकाश तोमर पिता मंगल सैन तोमर (बेटा)
6- मेनका शर्मा पिता मंगलसेन तोमर (बेटा)
7- आरती शर्मा पिता पवन शर्मा (बेटी)
8- शारदा पिता राजकुमार (बेटी)
9- आयुष त्यागी पिता प्रशांत कुमार त्यागी (बेटा)

मामले में डीएम अजय शंकर पांडे ने कहा है कि जिसकी भी गलती पाई जाएगी, उसे बख्शा नहीं जाएगा. भ्रष्टाचार का मामला पूरे प्रकरण में नजर आ रहा है, लेकिन जांच के बाद पूरी तस्वीर साफ हो पाएगी.

Trending news