कुंभ 2021: हरिद्वार में बनेंगे 6 अस्थाई बस स्टैंड, परिवहन विभाग की तैयारियां पूरी

 कुंभ स्नान के लिए उत्तराखंड रोडवेज हरिद्वार में 6 अस्थाई बस स्टैंड बनाए जा रहे हैं. भीड़ बढ़ने पर बसों की संख्या भी बढ़ा दी जाएगी. 

कुंभ 2021: हरिद्वार में बनेंगे 6 अस्थाई बस स्टैंड, परिवहन विभाग की तैयारियां पूरी

नरेश गुप्ता/हरिद्वार: उत्तराखंड (Uttrakhand) के हरिद्वार (Haridwar) में होने वाले कुंभ मेले (Kumbh Mela) के लिए तैयारियां जोरों-शोरों पर चल रही हैं. हर विभाग अपने आप को कुंभ के लिए तैयार करने में लगा हुआ है. इसी क्रम में अन्य राज्यों से श्रद्धालुओं को स्नान पर्व धर्मनगरी हरिद्वार लाने के लिए रोडवेज भी अपनी तैयारियों में जुट हुआ है.

धीरे-धीरे चढ़ रही है रंगत, इस बार 48 दिन का होगा कुंभ मेला, चुनिंदा संत होंगे शामिल

उत्तराखंड रोडवेज भी तैयार

रोड़वेज के एआरएम प्रतीक जैन हरिद्वार ने बताया कि कुंभ स्नान के लिए उत्तराखंड रोडवेज (Uttrakhand Roadways) की अन्य राज्यों के रोडवेज जैसे उत्तर प्रदेश, हिमाचल, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली से बातचीत हुई है जिसमें यह फैसला लिया गया है कि श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए अन्य राज्यो की बसों को बढ़ाया जाएगा.

बनाए जा रहे हैं 6 अस्थाई बस स्टैंड

एआरएम ने बताया कि कुंभ को देखते हुए हमने 6 अस्थाई बस स्टैंड बनाए जा रहे हैं. जिसमें ऋषिकूल में 2 बस स्टैंड, एक दक्ष मंदिर के पास, धीरवाली, बैरागी कैंप, गौरी शंकर में बनाए जाएंगे जिनका काम फरवरी के मध्य तक पूरा हो जाएगा. हरिद्वार कुंभ में स्नान करने आने वाले श्रद्धालुओं को कोई दिक्कत न आए और व्यवस्था सुचारू रूप से चलती रही इसके लिए अतिरिक्त बस स्टैंड बनाए जा रहे हैं. जैसे-जैसे भीड़ बढ़ती जाएगी वैसे ही बसों की संख्या भी बढ़ा दी जाएगी. कुंभ को देखते हुए कई प्लान बनाए गए हैं जिनका समय और परिस्थितियों के अनुसार पालन किया जाएगा.

कोविड-19 के दौर में पहला बड़ा धार्मिक आयोजन
12 साल में होने वाला हरिद्वार महाकुंभ (haridwar mahakumbh 2021) इस बार 11वें साल यानी साल 2021 में होने जा रहा है. मेष राशि में सूर्य और कुंभ राशि में बृहस्पति आने पर महाकुंभ होता है. साल 2022 में बृहस्पति कुंभ राशि में नहीं रहेंगे. इसलिए इस बार आयोजन (mahakumbh 2021) एक साल पहले हो रहा है.

कुंभ मेला 2021 का शुभ मुहूर्त और तिथि
पहला शाही स्नान: 11 मार्च शिवरात्रि
दूसरा शाही स्नान: 12 अप्रैल सोमवती अमावस्या
तीसरा मुख्य शाही स्नान: 14 अप्रैल मेष संक्रांति
चौथा शाही स्नान: 27 अप्रैल बैसाख पूर्णिमा

6 अन्य स्नान

  • 14 जनवरी 2021 मकर संक्रांति
  • 11 फरवरी मौनी अमावस्या
  • 16 फरवरी बसंत पंचमी
  • 27 फरवरी माघ पूर्णिमा
  • 13 अप्रैल चैत्र शुक्ल प्रतिपदा (हिन्दी नववर्ष)
  • 21 अप्रैल राम नवमी

कुंभ में रजिस्ट्रेशन को लेकर बवाल, नरेंद्र गिरी ने किया सवाल- भगवान लाइन में खड़े होंगे क्या?

WATCH LIVE TV