close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्‍मीरी युवकों की पिटाई मामले पर PM मोदी सख्‍त, बोले- कुछ सिरफिरे माहौल बिगाड़ना चाहते हैं

पीएम मोदी ने कानपुर रैली में इस घटना के बाद योगी सरकार की तारीफ करते हुए कहा क‍ि उन्‍होंने दोष‍ियों पर बहुत तेजी से कार्रवाई की.

कश्‍मीरी युवकों की पिटाई मामले पर PM मोदी सख्‍त, बोले- कुछ सिरफिरे माहौल बिगाड़ना चाहते हैं

कानपुर : लखनऊ में कश्‍मीरी युवकों के साथ हुई पिटाई के मामले में पीएम मोदी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. कानपुर में रैली के दौरान पीएम मोदी ने कहा, देश में एकता का वातावरण बनाए रखना बहुत अहम है. लखनऊ में कुछ सिरफिरे लोगों ने हमारे कश्‍मीरी भाइयों के साथ जो हरकत की थी, उस पर यूपी सरकार ने तुरंत कार्रवाई की. उन्‍होंने इसके लिए योगी सरकार की भी तारीफ की. पीएम ने कहा, यूपी सरकार ने इस मामले में तुरंत कदम उठाए.

इस रैली में पीएम मोदी ने एयरस्‍ट्राइक पर सबूत मांगने के लिए एक बार फि‍र से विपक्ष पर निशाना साधा. उन्‍होंने कहा, कुछ लोग सेना के शौर्य पर संदेह कर रहे हैं. हम कैसे भूल सकते हैं, कि उनके बयान पाकिस्‍तान को खुश करने वाले होते हैं. पूरी दुनिया आज पाकिस्‍तान पर दबाव डाल रही है, लेकिन देश में ही कुछ लोग ऐसे हैं, जो पाकिस्‍तान की मदद कर रहे हैं.

गुरुवार को तीन कश्‍मीरी युवकों को पीटा था
गुरुवार को लखनऊ में तीन कश्‍मीरी युवकों को पीटने का मामला सामने आया था. कश्मीर के रलोगा निवासी अफजल नाइक ने बताया कि वह वजीरगंज के गोलागंज इलाके में रहकर सड़कों पर मेवा बेचता है. रोज की तरह बुधवार की शाम अफजल अपने दो साथियों के साथ डालीगंज पुल पर मेवा बेच रहा था. इसी बीच कार सवार तीन से चार लोग वहां पहुंचे और उन लोगों की पिटाई शुरू कर दी. आरोपियों ने अफजल व उसके दोनों साथियों पर संदिग्ध होने का आरोप लगाते हुए हाथापाई शुरू कर दी. इस बीच आरोपियों ने कश्मीरी युवकों से उनका अधार कार्ड मांगा.

अफजल का कहना है कि आधार कार्ड की फोटो कॉपी दिखाने पर इसे फर्जी बताते हुए उनके साथ मारपीट शुरू कर दी. इस बीच आरोपियों के कुछ और साथी भी वहां पहुंच गए. सभी ने मिलकर तीन कश्मीरी युवकों को बुरी तरह पीट दिया. इस बीच दो कश्मीरी युवक किसी तरह अपनी जान बचा कर वहां से भाग निकले. सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस भी पहुंच गई. आरोपियों के खिलाफ कार्यवाई करने के बजाए पुलिस अफजल को ही थाने ले गई. वहीं आरोपी वहां से आराम से चले गए.