छात्रा ने छेड़खानी करने वाले को पीटा तो प्रिंसीपल बोले-इससे होती है बदनामी और काट द‍िया स्‍कूल से नाम

छेड़खानी का विरोध और लड़के की पिटाई करने की जानकारी मिलते ही कॉलेज प्रिंसीपल ने छात्रा का नाम काट कर स्कूल से बाहर कर दिया और दलील ऐसी दी कि आप सुन कर हैरान हो जाएंगे.

छात्रा ने छेड़खानी करने वाले को पीटा तो प्रिंसीपल बोले-इससे होती है बदनामी और काट द‍िया स्‍कूल से नाम

प्रदीप ति‍वारी, गोरखपुर : युवक द्वारा छेड़खानी का विरोध एक छात्रा पर भारी पड़ गया. छेड़खानी का विरोध और लड़के की पिटाई करने की जानकारी मिलते ही कॉलेज प्रिंसीपल ने छात्रा का नाम काटकर स्कूल से बाहर कर दिया. कॉलेज प्रिंसीपल ने जो दलील दी वह हैरान करने वाली है. प्रिंसिपल का कहना है कि जो स्कूल की बदनामी कराए उसे स्कूल में पढ़ाने का क्या मतलब.

मामला कुशीनगर जनपद के सखवनिया के महात्मा गांधी इंटर कॉलेज का है. स्कूल से घर जाते समय युवक द्वारा छेड़खानी से परेशान होकर लड़की ने सरेराह लड़के की पिटाई कर दी थी. लड़की को लड़का धमकी देता था कि मुझसे प्यार करो नहीं तो तुम्हारे मुंह पर तेजाब फेंक दूंगा. धमकी से तंग आकर लड़की ने सरेराह उसकी पिटाई कर दी और पुलिस को फोन करके इसकी सूचना दे दी. लड़की ने पुलिस को तहरीर सौंप कर कार्रवाई की मांग की है. लेकिन प्रिंसिपल ने छात्रा का नाम काट कर स्कूल से टीसी (ट्रांसफर सर्टिफिकेट) देने की बात कह दी. साथ ही कहा, ऐसा करने से कॉलेज की बदनामी होती है.

कुशीनगर जनपद के कुबेर स्थान थाना क्षेत्र के महात्मा गांधी इंटर कालेज सखवनिया में कक्षा 11 (बायोलॉजी) में पढ़ने वाली एक छात्रा जब कालेज से घर जा रही थी, तो रास्ते मे पहले से खड़े युवक उससे छेड़खानी करने लगा. युवक यह धमकी देने लगा कि मेरी बात मान लो नहीं तो तुम्हारे मुंह पर तेजाब फेंक दूंगा. तुम्हारा रेप कर दूंगा. छात्रा ने बगल से गुजर रहे लड़के को अपनी बात बताई कि भैया यह मेरे साथ छेड़खानी कर रहा है तो उन लड़कों ने लड़की के साथ मिलकर उस लड़के की पिटाई कर दी. लड़कों ने उस लड़के को पकड़ कर पुलिस बुलाकर सौंप दिया.

अगले दिन जब छात्रा कॉलेज पहुचीं तो प्रार्थना के समय सभी छात्रों के बीच प्रिंसीपल चंद्र भूषण सिंह ने कहा कि ऐसी लड़की को कॉलेज में पढ़ने की कोई जरूरत नही है जो अनुशासनहीन हो और कॉलेज की छवि धूमिल करती हो. एंटी रोमियो टीम के सक्रीय होने के सवाल पर प्रधानाचार्य ने बताया कि कई बार कहने के बाद भी टीम नही आती है. अब हम क्या करें.

जब इस संबंध में सीओ सदर नितेश प्रताप सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि कल सखवनिया इंटर कालेज में कक्षा 11 में पढ़ने वाली छात्रा ओने छेड़खानी का विरोध किया और उस शोहदे की कुछ लड़कों द्वारा पिटाई कर दी गई इसके संबंध में पीड़िता द्वारा तहरीर दी गई है. मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है.