close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव: गोरखपुर में ड्यूटी पर तैनात दो पीठासीन अधिकारियों की तबीयत बिगड़ने से हुई मौत

बांसगांव थाना के कोपवां गांव स्थित बूथ संख्या 213 के पीठासीन अधिकारी विनोद श्रीवास्तव और पिपराईच थाना के बेला-कांटा स्थित बूथ संख्या-381 के पीठासीन अधिकीर राजाराम की ड्यूटी के दौरान तबीयत खराब होने से मौत हो गई. 

लोकसभा चुनाव: गोरखपुर में ड्यूटी पर तैनात दो पीठासीन अधिकारियों की तबीयत बिगड़ने से हुई मौत
गोरखपुर लोकसभा सीट पर लोकसभा चुनाव के अंतिम और सातवें चरण के तहत आज वोटिंग कराई जा रही है.

गोरखपुर: गोरखपुर में रविवार (19 मई) को अंतिम चरण के लिए मतदान हो रहा है. चुनाव में ड्यूटी के दौरान अलग-अलग निर्वाचन क्षेत्र में दो पीठासीन अधिकारियों की मौत हुई. इनमें बांसगांव थाना के कोपवां गांव स्थित बूथ संख्या 213 के पीठासीन अधिकारी विनोद श्रीवास्तव और पिपराईच थाना के बेला-कांटा स्थित बूथ संख्या-381 के पीठासीन अधिकीर राजाराम की मौत हुई है. 

जानकारी के मुताबिक, बांसगांव थाना के कोपवां गांव स्थित बूथ संख्या- 213 के पीठासीन अधिकारी विनोद श्रीवास्तव को रात में सीने में दर्द की शिकायत पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां हॉर्ट अटैक से उनकी मौत हो गई. मृतक विनोद श्रीवास्तव गन्ना विभाग में केन्द्र निरीक्षक थे. 

पिपराईच थाना के बेला-कांटा स्थित बूथ संख्या- 381 के पीठासीन अधिकीर राजाराम की रविवार सुबह मौत हो गई. मृतक राजाराम रेलवे महाप्रबंधक कार्यालय में सतर्कता विभाग में कार्यरत थे. बताया जा रहा है कि राजाराम को अस्थमा की शिकायत थी. फिलहाल, दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. वहीं पीठासीन अधिकारियों की मौत से परिजन सदमें हैं.

लाइव टीवी देखें

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर लोकसभा सीट पर लोकसभा चुनाव के अंतिम और सातवें चरण के तहत रविवार (19 मई) को वोटिंग कराई जा रही है. गोरखपुर संसदीय सीट पर कुल 10 उम्मीदवार मैदान में हैं, लेकिन मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के रविंद्र श्याम नारायण शुक्ला उर्फ रवि किशन, कांग्रेस के मधुसूदन त्रिपाठी और समाजवादी पार्टी के राम भुआल निषाद के बीच है.