UP के इस जिले में 81 हिंदू परिवारों ने लगाए 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर, जानें क्या है वजह

कॉलोनी के लोगों के आरोप हैं कि मुख्य गेट पर बने मकानों को विशेष समुदाय के व्यक्तियों द्वारा 3 गुना अधिक कीमत देकर खरीद लिया गया है.

UP के इस जिले में 81 हिंदू परिवारों ने लगाए 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर, जानें क्या है वजह
कॉलोनी वालों से बातचीत करने पहुंची पुलिस

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद (Moradabad) से बेहद हैरान करने वाली खबर सामने आई है. यहां एक कॉलोनी के 81 परिवारों ने सामूहिक रूप से अपने मकान बेचकर पलायन करने के पोस्टर लगाए हैं. इन परिवारों का आरोप है कि कॉलोनी के कुछ मकानों को विशेष समुदाय के व्यक्तियों द्वारा 3 गुना अधिक कीमत देकर खरीद लिया गया है. वो लोग नॉनवेज खाने के बाद बचे हुए अवशेष कॉलोनी में ही इधर-ऊधर फेंककर परेशान करते हैं. 

ऐसे में लोगों ने अपने घरों को बेचकर सामूहिक पलायन की धमकी दी है. वहीं, इस बात की जानकारी मिलते ही मुरादाबाद प्रशासन (Moradabad Administration) अलर्ट हो गया है. विरोध कर रहे लोगों से लगातार बातचीत कर उन्हें समझाने का प्रयास कर रहा है.

ये भी देखें- Viral Video: दोस्त की शादी में लड़कों ने घूंघट में किया ऐसा जबर डांस, देखती रह गईं लड़कियां!

क्या है पूरा मामला?
मामला, थाना कटघर इलाके के लाजपत नगर की शिव विहार कॉलोनी का है. कॉलोनी के लोगों के आरोप हैं कि मुख्य गेट पर बने मकानों को विशेष समुदाय के व्यक्तियों द्वारा 3 गुना अधिक कीमत देकर खरीद लिया गया है. वे लोग यहां जानवरों के अवशेष डालकर गंदगी फैला रहे हैं और उन्हें परेशान कर रहे हैं. स्थानीय लोगों ने विशेष समुदाय के व्यक्ति द्वारा खरीदे गए मकान की रजिस्ट्री कैंसिल कराने की मांग को लेकर घरों और कॉलोनी के गेट पर सामूहिक पलायन के पोस्टर बैनर लगा दिए हैं. इतना ही नहीं, पलायन की धमकी देने वालों का कहना है कि हम लोगों ने आपस में ही तय किया है कि या तो धर्मांतरण कर लें या पलायन. 

ये भी देखें- 'जूस बेचने वाली' बूढ़ी दादी सोशल मीडिया पर हुईं Viral, बेबसी में भी मुस्कुराता देख भर आएंगी आंखें

जिलाधिकारी ने क्या कहा?
वहीं, पूरे मामले में जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि अभी हाल ही में अल्पसंख्यक समुदाय द्वारा तीन मकान खरीदा गया है. बाकी उस कॉलोनी में सारे के सारे मकान बहुसंख्यक समुदाय से रिलेटेड हैं. वास्तव में आपसी कुछ घरों के विवाद का मामला है, जिस पर अधिकारियों को मौके पर भेजा गया. उनसे बातचीत की गई है और इसमें पलायन जैसी कोई बात नहीं है. 

WATCH LIVE TV