जरा संभलकर: WhatsApp पर भेजा गया QR लिंक खोलने से पहले याद रखें ये खबर

साइबर ठगी के रोज कई मामले देश के अलग-अलग शहरों से आ रहे हैं.  साइबर ठग न केवल तकनीक के गलत इस्तेमाल से अंजान लोगों को लूट रहे हैं, बल्कि जानकारी रखने वालों को भी चुटकियों में बरगला लेते हैं. इसी सिलसिले में साइबर ठगी का एक मामला ग्रेटर नोएडा से सामने आया है.

जरा संभलकर: WhatsApp पर भेजा गया QR लिंक खोलने से पहले याद रखें ये खबर
प्रतीकात्मक फोटो

गौतमबुद्धनगर: साइबर ठगी के रोज कई मामले देश के अलग-अलग शहरों से आ रहे हैं.  साइबर ठग न केवल तकनीक के गलत इस्तेमाल से अंजान लोगों को लूट रहे हैं, बल्कि जानकारी रखने वालों को भी चुटकियों में बरगला लेते हैं. इसी सिलसिले में साइबर ठगी का एक मामला ग्रेटर नोएडा से सामने आया है. यहां बीटेक अंतिम वर्ष के छात्र को साइबर ठगों ने ऐसा घुमाया कि उसी के हाथों उसके अकाउंट से पैसे उड़ा लिए. 

फेक कॉल कर रहा 'मैं बाबा बोल रहा हूं'
दादरी की गुर्जर कॉलोनी निवासी पीयूष शर्मा बी टेक की पढ़ाई कर रहे हैं. उन्होंने साइबर ठगी की शिकायत दर्ज कराते हुए कहा कि 8 अगस्त को उसके मोबाइल पर अननोन नंबर से कॉल आई थी. कॉल करने वाले ने कहा कि- मैं बाबा बोल रहा हूं. पीयूष को लगा कि कोई जरूरी काम होगा और बाबा ने किसी अन्य व्यक्ति के नंबर से कॉल की है. 

Interesting Fact: कोरोना ने 43 फीसदी लोगों का जंक फूड छुड़ा दिया, फिर भी बढ़ गया वजन 

व्हाट्सऐप किया क्यू आर लिंक 
आरोपी कॉलर ने पीयूष से कहा कि उन्होंने उसके व्हॉट्सएप पर कुछ भेजा है, उसे चेक कर ले. पीयूष ने जैसे ही व्हॉट्सपर पर भेजे गए लिंक-क्यूआर कोड को क्लिक किया, वो स्कैन हो गया और उसके बैंक खाते से 25 हजार रुपये तत्काल कट गए. पीयूष का कहना है कि क्यूआर कोड पर क्लिक करने के बाद गूगल पे पर अटैच किए गए बैंक अकाउंट से रुपये कटे हैं.

कॉल बैक करने पर मिली धमकी 
पीड़ित छात्र ने बताया कि कॉल बैक करने पर आरोपी ने उसे उल्टा धमकी दी. पीयूष का कहना है कि वह साइबर ठगों की करतूत से वाकिफ है और सावधान रहता है, लेकिन आरोपी के बाबा के नाम से दिए गए झांसे को वह समझ नहीं पाया. पुलिस को शिकायत देने के बाद अब केस दर्ज किया गया है. 

मनरेगा में 100 दिन करेंगे काम तो 'पक्का' मिल जाएगा मकान 

आप भी रहें सावधान 
गौतमबुद्धनगर से साइबर ठगी के कई मामले आ चुके हैं. जिनमें से ज्यादातर में साइबर ठग अंजान नंबर से कॉल करते हैं. लिंक भेजते हैं या फिर मेल के जरिये साइबर ठगी करते हैं. हाल-फिलहाल क्यू आर कोड के जरिये भी ठगी के कई मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में सावधान रहना जरूरी है. ये क्यू आर कोड क्लिक करते ही स्कैन हो जाते हैं और मोबाइल में लिंक बैंक अकाउंट से पैसे उड़ जाते हैं. ऐसे में इसे लेकर सावधानी रखना जरूरी है.

WATCH LIVE TV